महाराष्ट्र में संदिग्ध नाव पर मिली तीन AK47, मस्कट से यूरोप जा रही नाव बहकर भारत पहुंची

बोट का नाम लेडी हाल है, इस बोट की मालिक एक ऑस्ट्रेलियन महिला है। उस महिला के पति इस बोट के कप्तान हैं और यह बोट मस्कट से यूरोप की तरफ जा रही थी।

Updated: Aug 18, 2022, 06:59 PM IST

महाराष्ट्र में संदिग्ध नाव पर मिली तीन AK47, मस्कट से यूरोप जा रही नाव बहकर भारत पहुंची

रायगढ़। महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में स्थित हरिहरेश्वर तट के पास संदिग्ध नाव मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। गणेश चतुर्थी को देखते हुए मुंबई को हाई अलर्ट किया गया है। नाव से तीन एके-47 राइफल और अन्‍य हथियार मिलने के बाद सुरक्षा व्‍यवस्‍था को लेकर खौफ की स्थिति बन गई थी। हालांकि, अब डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने साफ किया है कि इस नाव का कोई आतंकी एंगल नहीं है।

फडणवीस ने विधानसभा में बताया कि, 'रायगढ़ जिले के समुद्री तट पर एक बोट पाई गई है, जिसमें तीन एके-47 और उसके साथ उसका अमिनेशन व बोट के कुछ कागजात पाए गए हैं। इस घटना की सूचना मिलने के बाद तुरंत महाराष्ट्र पुलिस ने और एटीएस ने सभी जगह नाकाबंदी कर तफ्तीश शुरू कर दी। हम लोगों ने तुरंत भारतीय कोस्ट गार्ड के साथ संपर्क किया और उन्होंने भी इसकी तफ्तीश शुरू की है।'

यह भी पढ़ें: केंद्र ने 8 यूट्यूब चैनल पर लगाया बैन, देशविरोधी सामग्री पोस्ट करने का आरोप, लोकतंत्र टीवी भी शामिल

फडणवीस के मुताबिक, 'जांच के दौरान पाया गया कि बोट का नाम लेडी हाल है। इस बोट की  मालिक एक ऑस्ट्रेलियन महिला है। उस महिला के पति इस बोट के कप्तान हैं और यह बोट मस्कट से यूरोप की तरफ जा रही थी और 26 जून को इस बोट का इंजन खराब हो गया और बोट पर जो लोग सवार थे उन्होंने कोरियन नेवी को मदद के लिए कॉल दिया। दरअसल, कोरियन नेवी की बोट आसपास ही थी। इसके बाद कोरियन नेवी ने इन सभी लोगों को उस बोट से सुरक्षित निकाला और ओमान को सुपुर्द कर दिया। लहरों के साथ बहता हुआ नाव अब महाराष्ट्र की तरफ आ गया।'

बता दें कि महाराष्ट्र में रायगढ़ तट से बृहस्पतिवार को एक संदिग्ध नाव मिली जिसमें तीन एके-47 राइफल और गोलियां रखी हुई थीं। एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कुछ स्थानीय लोगों ने मुंबई से करीब 190 किलोमीटर दूर श्रीवर्धन क्षेत्र में नाव को देखा और उन्होंने सुरक्षा एजेंसियों को इसकी जानकारी दी। नाव में चालक दल का कोई सदस्य नहीं था। रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक अशोक दुधे और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने नाव की तलाशी ली।