गौ मूत्र पीने से दूर होता है फेफड़ों का इंफेक्शन, मैं लेती हूं इसलिए मुझे नहीं हुआ कोरोना- साध्वी प्रज्ञा

गौ मूत्र से कैंसर ठीक करने वाली बीजेपी की बड़बोली सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने गौ मूत्र को लेकर एक बार फिर से अजीबोगरीब दावा किया है, प्रज्ञा का कहना है कि वे गौ मूत्र ले रही हैं इसलिए उन्हें कोरोना नहीं हुआ

Updated: May 17, 2021, 12:11 PM IST

गौ मूत्र पीने से दूर होता है फेफड़ों का इंफेक्शन, मैं लेती हूं इसलिए मुझे नहीं हुआ कोरोना- साध्वी प्रज्ञा
Photo Courtesy: New Indian Express

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कोरोना को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है कि वह गौ मूत्र लेती हैं इसलिए उन्हें कोरोना नहीं हुआ। उन्होंने दावा किया कि गौ मूत्र पीने से फेफड़ों का इंफेक्शन दूर हो जाता है, साथ ही इससे कोरोना वायरस से भी बचा जा सकता है। साध्वी प्रज्ञा ने लोगों से देशी गाय पालने और गौ मूत्र पीने की अपील की है।

दिलचस्प बात ये है कि गौ मूत्र को लेकर इस तरह के अजीबोगरीब दावे साध्वी प्रज्ञा तब कर रहीं थीं जब रविवार को वे संत नगर क्षेत्र में स्थित डॉ हेडगेवार हॉस्पिटल को 25 ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर डोनेट करने पहुंची थीं। ऐसे में सवाल उठ रहा है की गौ मूत्र सेवन के चिकित्सीय लाभ के बारे में जानकारी होने के बावजूद उन्होंने हॉस्पिटल में गौ मूत्र के जगह ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर डोनेट क्यों किया? 

कार्यक्रम के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए बीजेपी सांसद ने आगे कहा कि, 'भोपाल के कुछ लोग मेरे गायब होने की बातें कर रहे हैं। मेरे ऊपर इनाम घोषित कर रहे हैं। ऐसे लोग संवैधानिक अपराध कर रहे हैं जिन्हें माफ नहीं किया जा सकता। अपराधियों को दंड देना ईश्वर का काम है।' प्रज्ञा ने इस दौरान यह भी कहा कि भोपाल में वो 1 करोड़ पौधे लगवाएंगी।

गौ मूत्र से कैंसर ठीक करने का दावा

यह पहली बार नहीं है जब साध्वी प्रज्ञा ने गौ मूत्र को लेकर इस तरह के अवैज्ञानिक दावे किए हों। इसके पहले उन्होंने दावा किया था कि वह गौ मूत्र से अपना कैंसर ठीक कर चुकी हैं। साध्वी प्रज्ञा के इस बयान ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों को हैरत में डाल दिया था। हालांकि, तब साल 2008 से प्रज्ञा का इलाज कर रहे डॉक्टर एसएस राजपूत ने बताया था कि साध्वी झूठ बोल रही हैं। राजपूत ने कहा था कि उन्हें कैंसर था लेकिन वह गौमूत्र नहीं बल्कि सर्जरी से ठीक हुआ है।