इंदौर: क्रिकेट मैच में करोड़ों का भ्रष्टाचार, कांग्रेस का दावा- 18 हजार से ज्यादा टिकट ब्लैक में बेचे, टेंडर में भी घोटाला

इंदौर में 4 अक्टूबर को भारत बनाम साउथ अफ्रीका मैच हुआ था, कांग्रेस ने MPCA पर करोड़ों के भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है

Updated: Oct 07, 2022, 06:05 PM IST

इंदौर: क्रिकेट मैच में करोड़ों का भ्रष्टाचार, कांग्रेस का दावा- 18 हजार से ज्यादा टिकट ब्लैक में बेचे, टेंडर में भी घोटाला

इंदौर। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच हुए क्रिकेट मैच में पैसों को लेकर एमपीसीए और नगर निगम आमने-सामने है। इस विवाद में अब विपक्षी दल कांग्रेस की भी एंट्री हो गई है। कांग्रेस ने एमपीसीए पर करोड़ों के भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। कांग्रेस के प्रदेश सचिव राकेश सिंह यादव ने दावा किया कि एमपीसीए ने 18 हजार से ज्यादा टिकट ब्लैक में बेचा है।

बता दें कि दरअसल 4 अक्टूबर को इंदौर में भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टी-20 मैच खेला गया था। इस मैच के बाद से एमपीसीए पर अनिमितताओं के आरोप लग रहे हैं। कांग्रेस ने टेंडरिंग में भी करोड़ों के घोटाले का आरोप लगाया है। एमपीसीए ने इसका टेंडर मोहित भार्गव की कंपनी ब्लूनेक इवेंट्स प्राइवेट लिमिटेड को दिया था। 

कांग्रेस नेता राकेश सिंह यादव का आरोप है कि कंपनी को टेंडर देने में 2022 में और उसके पहले 2017 व 2019 में जिस इवेंट कंपनी को ठेका दिया था और उसमें जो शर्तें थी, उसमें जबर्दस्त हेराफेरी की गई। 2017 में ठेका लेने वाली कंपनी को 5 साल काम करने का अनुभव व ढाई करोड़ टर्न ओवर होना जरूरी था। वहीं 2019 में 3.5 करोड़ टर्न ओवर और ईएमटी (अर्नेस्ट मनी) 2 लाख कर दी गई। 2022 में अर्नेस्ट मनी को घटाकर 75 हजार रुपए कर दिया गया। इसके साथ ही टर्न ओवर की शर्तें समाप्त कर दी गई।

यादव का आरोप है कि एक नई कंपनी जो छह महीने पहले बनी है, उस कंपनी को काम दे दिया। 2022 में इसके लिए और भी कंपनियां थी जिन्हें अच्छा अनुभव था, कम रेट में काम करने वाली थी।उन्हें दरकिनार कर ऐसी कंपनी को ठेका दिया गया, जिससे साबित होता है कि इस पूरे मामले में बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है। कागज पर 600 सुरक्षा गार्ड दिखाए गए, जबकि 200 से ज्यादा की जरूरत नहीं थी। यादव ने सीधे नाम लेकर कहा कि यह भ्रष्टाचार एसोसिएशन के अध्यक्ष अभिलाष खाण्डेकर ने किया है।