PANKH: मध्य प्रदेश में आज से शुरू हुआ पंख अभियान, जानें क्या है इसका मकसद

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर लड़कियों के लिए आज से पंख अभियान की शुरुआत की है, इसका मुख्य मकसद बालिकाओं को सशक्त करना है

Updated: Jan 24, 2021, 07:10 PM IST

PANKH: मध्य प्रदेश में आज से शुरू हुआ पंख अभियान, जानें क्या है इसका मकसद
Photo Courtesy : Twitter

भोपाल। राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पंख (PANKH) अभियान की शुरुआत की है। इस अभियान का मकसद बालिकाओं को सशक्त करना और उनका विकास करना है। इसे बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के तहत शुरू किया गया है।

सीएम ने इस दौरान पंख (PANKH) का मतलब भी बताया। उन्होंने कहा, PANKH में P (Protection) सुरक्षा के लिए है, A (Awareness) अपने अधिकारों को लेकर जागरूक रहना, N (Nutrition) पोषण के लिए है, K (knowledge) ज्ञान के लिए ताकि हर क्षेत्र में प्रगति हो और H (Health) स्वास्थ्य के लिए है। इसे एक साल तक जारी रखा जाएगा।'

इस दौरान सीएम ने कहा कि बेटियां हमारी साहस हैं, शौर्य,कर्म और शुभकामनाएं हैं, सचमुच में इनके बिना दुनिया नहीं चल सकती है। ये हमारे संस्कार हैं कि हम बेटों की नहीं,बेटियों की पूजा करते हैं। इनके पंखों को मजबूत करने का मेरा संकल्प और मजबूत हुआ, ताकि ये अपनी ऊंची उड़ान से प्रदेश और देश के गौरव को असीम ऊंचाइयों तक पहुंचा सकें।'

 

 

क्या है यह अभियान

पंख अभियान का मुख्य उद्देश्य किशोरी बालिकाओं को सुरक्षा, जागरूकता, पोषण, जानकारी और स्वास्थ्य व स्वच्छता से जोड़ते हुए उन्हें विभिन्न गतिविधियों में शामिल कर उनका विकास सुनिश्चित कराना है। इस अभियान के तहत शिक्षा, सामाजिक कल्याण, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा किशोरियों के स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा सुनिश्चित किया जाएगा। इसके तहत डाटाबेस तैयार कर उनके विकास की मॉनिटरिंग की जाएगी। साथ ही पुलिस विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर किशोरियों को उनकी रुचि के अनुसार आत्मरक्षा की पंचायत स्तर पर ट्रेनिंग दी जाएगी।