दबंगों ने कब्जाया मकान, मदद के लिए मंत्री की कार के आगे लेटा पीड़ित, मंत्री जी ने देखा तक नहीं

मध्य प्रदेश के शिवपुरी में एक युवक के घर पर दबंगों ने कब्जा जमा लिया, पीड़ित मदद के लिए मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया से मिलने पहुंचा, लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने जाने नहीं दिया, बाद में उसने गाड़ी के सामने लेटकर आत्महत्या की कोशिश की, लेकिन मंत्री ने देखा तक नहीं

Updated: Apr 21, 2022, 06:12 PM IST

दबंगों ने कब्जाया मकान, मदद के लिए मंत्री की कार के आगे लेटा पीड़ित, मंत्री जी ने देखा तक नहीं

शिवपुरी। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार अवैध कब्जे को खिलाफ जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने का दावा कर रही है। हालांकि, यह कार्रवाई सिर्फ छोटे परिवारों पर हो रही है। दबंगों के कब्जे से संपत्ति छुड़ाने में सरकार नाकाम दिख रही है। शिवपुरी जिले से एक ऐसा ही मामला आया है जहां दबंगों ने एक युवक के घर पर कब्जा जमा लिया है, लेकिन थानेदार से लेकर मंत्री तक कोई उसकी मदद नहीं कर रहे हैं।

शिवपुरी के नरवर निवासी महेंद्र सिंह रावत के मुताबिक कुछ दबंगों ने उसकी बुजुर्ग मां और बुजुर्ग चाचा को मारपीट कर घर से भगा दिया और घर पर कब्जा कर लिया। पीड़ित ने बताया कि उसने नरवर थाने में गुहार लगाई लेकिन पुलिस ने भी उसकी मदद नहीं की। पीड़ित युवक बुधवार को मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया से मदद मांगने शिवपुरी पहुंचा, जहां कलेक्टर कार्यालय में प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया कार्यो की समीक्षा बैठक ले रहे थे। 

बैठक के बाद जब मंत्री जी बाहर आए तो पुलिसकर्मियों ने उनसे मिलने नहीं दिया। इस बात से नाराज होकर वह आत्महत्या करने के लिए उनकी कार के आगे लेट गया। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने उसे उठा दिया। हैरानी की बात ये है कि इतना कुछ होने के बावजूद कार से उतरना तो दूर मंत्री जी ने पीड़ित को पलटकर देखा तक नहीं और वे चलते बने। इसके बाद पीड़ित युवक भी आंखों में आंसू लिए वापस लौट गया।