व्यापमं पेपर लीक: नंबर बढ़ाने के लिए कॉलर ने मांगे पांच लाख रुपए, TET अभ्यर्थी का बड़ा दावा

MPTET कैंडिडेट सौरभ ने बताया कि उन्हें अज्ञात नंबर से कॉल आया और कहा गया कि मार्क्स बढ़ाना है, तो 5 लाख रुपए अभी दे दो, रिजल्ट जब आएगा, तो उसके बाद 5 लाख रुपए और दे देना

Updated: Mar 29, 2022, 12:03 PM IST

व्यापमं पेपर लीक: नंबर बढ़ाने के लिए कॉलर ने मांगे पांच लाख रुपए, TET अभ्यर्थी का बड़ा दावा

भोपाल। मध्य प्रदेश में व्यपमं (PEB) के माध्यम से होने वाली भर्तियां हमेशा सवालों के घेरे में रहती है। हाल ही में संविदा शिक्षक वर्ग 3 के पेपर आउट होने के बाद PEB पर गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं। इसे व्यापमं घोटाला पार्ट-3 बताया जा रहा है। इस बीच भोपाल के कैंडिडेट सौरभ विश्वकर्मा ने बड़ा दावा किया है।

सौरभ के मुताबिक मार्क्स बढ़ाने के लिए उससे 5 लाख रुपए मांगे जा रहे हैं। उसके पास अनजान नंबरों से कॉल आ रहे हैं। सौरभ ने कहा कि, 'मेरा MPTET का पेपर 10 मार्च को हुआ था। मेरे 108 नंबर आए थे। आंसर शीट के लिए 25 मार्च का इंतजार कर रहे थे, ताकि परीक्षा में गलत उत्तर पर ऑब्जेक्शन लगाया जा सके। इसी दिन पता चला कि पेपर लीक हो गया है। किसने क्या किया, यह तो पता नहीं, लेकिन एक उम्मीदवार ने मोबाइल फोन पर पेपर का स्क्रीनशॉट शेयर किया। इसमें सभी प्रश्न वही थे, जो पेपर मैं देकर आया था।'

यह भी पढ़ें: व्यापमं पेपर लीक: CM के OSD ने कांग्रेस नेता केके मिश्रा और आनंद राय के खिलाफ दर्ज कराई FIR

सौरभ को बाद में एक कॉल आया। कॉलर ने पूछा कि परीक्षा दी थी। उन्होंने हां कह दिया। सौरभ ने यह भी बताया मेरे 108 नंबर आए हैं। इसपर कॉलर ने कहा कि मार्क्स बढ़ाना है, तो 5 लाख रुपए अभी दे दो। रिजल्ट जब आएगा, तो उसके बाद 5 लाख रुपए और दे देना। सौरभ की तरह ही कुछ और उम्मीदवारों ने इसी तरह के अनजान नंबरों से कॉल आने की शिकायत की है। इसे लेकर उम्मीदवारों ने व्यापमं में आरटीआई भी लगाई है। 

सोमवार को प्रदेशभर से आए उम्मीदवारों ने व्यापमं ऑफिस के सामने प्रदर्शन किया था। इसके बाद वे मुख्यमंत्री निवास पर भी गए। वहां उन्होंने ज्ञापन सौंपकर मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। मामले पर विपक्षी दलों ने भी सरकार को घेरा है। कांग्रेस इस मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग कर रही है।