शिवराज सरकार ने 65 लाख किसानों को नहीं दी पहली किश्त, कांग्रेस का बड़ा आरोप

MP Congress: उपचुनाव खत्म होते ही सीएम शिवराज ने उतारा अपने चेहरे से नकाब, 18 लाख किसानों का वेरिफिकेशन भी अब तक अटका

Updated: Nov 21, 2020, 08:26 PM IST

शिवराज सरकार ने 65 लाख किसानों को नहीं दी पहली किश्त, कांग्रेस का बड़ा आरोप
Photo Courtesy: Live Hindustan

भोपाल। मध्य प्रदेश के 65 लाख किसानों को मुख्यमंत्री कल्याण योजना के अंतर्गत पहली किश्त की राशि प्राप्त नहीं हुई है। हैरानी की बात यह है कि करीब 18 लाख किसानों का वेरिफिकेशन तक नहीं हो पाया है। कांग्रेस ने यह आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री शिवराज चौहान पर तीखा हमला किया है। कांग्रेस ने यह भी कहा है कि उपचुनाव होने के बाद अब शिवराज ने अपने चेहरे से नकाब उतार दिया है।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया है, 'किसानों से छल जारी है, शवराज किसानों पर भारी है। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत 65 लाख से अधिक किसानों को अभी तक पहली किस्त की राशि नही प्राप्त हुई है, वहीं 18 लाख किसानों का वेरिफ़िकेशन नही हुआ है। शिवराज जी, उपचुनाव होते ही नक़ाब उतार दिया..? शवराज का जंगलराज।'

 

पंडित नेहरू की आलोचना में व्यस्त हैं मुख्यमंत्री

बता दें कि उपचुनाव के बाद भी कांग्रेस जहां शिवराज सरकार को लगातार मुद्दों पर घेर रही है वहीं मुख्यमंत्री शिवराज महान स्वतंत्रता सेनानी और देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू पर कीचड़ उछालने की कोशिश में जुटे हुए हैं। शिवराज ने आज ही एक बयान में इतिहास के तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश करते हुए आरोप लगाया कि  'पंडित नेहरू ने सत्ता जल्दी प्राप्त करने की चाह में देश के विभाजन को स्वीकार किया था।'  

और पढ़ें: शिवराज ने गुपकर गठबंधन को बताया चीन का जासूस

अब सवाल यह है कि प्रदेश के किसानों की हालात जहां इतनी बदतर होती जा रही है, लगातार किसानों द्वारा आत्महत्या करने की खबरें आती रहती हैं, ऐसे में सीएम का इन मुद्दों को छोड़कर हर बात में पंडित नेहरू पर दोषारोपण करते रहना कहां तक जायज है? कांग्रेस पहले भी आरोप लगा चुकी है कि सीएम शिवराज चौहान जमीनी मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए अनर्गल बयानबाजी करते रहते हैं।