डेढ़ साल बाद जम्मू कश्मीर में 4G इंटरनेट सेवाएं बहाल

पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्लाह ने कहा - 4G मुबारक, अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से बंद थीं इंटरनेट सेवाएं

Updated: Feb 05, 2021, 08:48 PM IST

डेढ़ साल बाद जम्मू कश्मीर में 4G इंटरनेट सेवाएं बहाल

जम्मू कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई हैं। 4G मोबाइल सेवाओं की बहाली के बारे में प्रिंसिपल सेक्रेटरी रोहित कंसल ने जानकारी दी है। कंसल ने ट्वीट करके बताया है कि पूरे जम्मू कश्मीर के इलाके में 4G इंटरनेट सेवा बहाल की जा रही है।

केंद्र शासित प्रदेश में 5 अगस्त 2019 से इंटरनेट सेवाएं ठप्प थीं। लगभग 18 महीने बाद बहाल हुई 4G सेवाओं पर पूर्व मुख्यमंत्री ओमर अब्दुल्लाह ने ट्वीट कर बधाई दी है। उन्होंने लिखा है 4G मुबारक। 

[removed][removed]

पूरी दुनिया में इस बात को लेकर भारत की आलोचना हो रही थी कि सरकार ने नागरिकों को इंटरनेट जैसी जरूरी सुविधा भी वंचित कर दिया है। हाल में जारी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत इंटरनेट शटडाउन के मामले में दुनिया में सबसे बुरे देश की श्रेणी में आ गया है। भारत के मुकाबले पाकिस्तान, इराक, यमन और इथियोपिया जैसे देशों में भी भारत से बेहतर हालात हैं। 

दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन के दौरान भी इंटरनेट सेवाओं के बंद होने पर कुछ विदेशी सेलिब्रिटीज ने भारत सरकार की सख्ती को सवालों के दायरे में ला दिया है। हाल ही में यूएस एंबेसी के प्रवक्ता का एक बयान भी काफी चर्चाओं में रहा, जिसमें किसान आंदोलन के मुद्दे पर दिए बयान में कहा गया था कि- आंदोलन, और इंटरनेट जैसी बुनियादी सुविधाएं एक जिंदा जनतंत्र की कसौटी हैं। भारत सरकार के इस कदम को इन चुनौतियों के परिप्रेक्ष्य में ही देखा जा रहा है।