चोल काल में नहीं था हिंदू धर्म का अस्तित्व, अंग्रेजों का गढ़ा शब्द है हिंदू: कमल हासन

कमल हासन ने यह बयान नेशनल अवॉर्ड विजेता फिल्ममेकर वैत्रिमारण के स्टेटमेंट के बाद दिया है, जिन्होंने 'पोन्नियिन सेल्वन 1' पर अपनी बात रखते हुए कहा कि चोल राजा हिंदू नहीं थे।

Updated: Oct 07, 2022, 01:05 PM IST

चोल काल में नहीं था हिंदू धर्म का अस्तित्व, अंग्रेजों का गढ़ा शब्द है हिंदू: कमल हासन

चेन्नई। दक्षिण भारत के दिग्गज अभिनेता और प्रोड्यूसर कमल हासन ने डायरेक्टर वेत्रिमारण के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि चोल राजा हिंदू नहीं थे। कमल हासन ने कहा कि चोल काल में कोई हिंदू धर्म नहीं था। हिंदू शब्द तो अंग्रेजों ने गढ़ा है।

दरअसल, चोल वंश के राजा की जिंदगी पर आधारित फिल्म ‘पोन्नियिन सेल्वन-1’ की रिलीज के बाद एक नया विवाद खड़ा हो गया है। यह विवाद है राजा राजा चोलन के धर्म को लेकर। नेशनल फिल्म अवॉर्ड विजेता वेत्रिमारण ने दावा किया है राजा राजा चोल हिंदू नहीं थे। उन्होंने कहा कि, 'राजा राजा चोलन हिंदू नहीं थे। वे (भारतीय जनता पार्टी के लोग) हमारी पहचान चुराने की कोशिश कर रहे हैं। वे पहले ही तिरुवल्लुवर का भगवाकरण करने की कोशिश कर चुके हैं। हमें इसकी अनुमति कभी नहीं देनी चाहिए।'

यह भी पढ़ें: भोंपू का पुलिसिया उपचार, जबलपुर पुलिस ने भोंपूबाजों का ऐसे उतारा भूत, वीडियो वायरल

कमल हासन ने वेत्रिमारण के बयान का समर्थन करते हुए कहा, 'राजा राजा चोलन के समय हिंदू धर्म नाम का कोई धर्म नहीं था। उस समय वैनावम, शिवम और समानम थे। अंग्रेजों ने हिंदू शब्द गढ़ा था। क्योंकि वे नहीं जानते थे कि इसे सामूहिक रूप से कैसे रेफर किया जाए। यह उसी तरह है, जैसे उन्होंने थुथुकुडी को तूतीकोरिन कर दिया।'

भारतीय जनता पार्टी ने इन बयानों का विरोध किया है।भाजपा नेता एच राजा ने कहा कि राजा राजा चोल एक हिंदू राजा थे। एच राजा ने कहा, 'मैं वैत्रिमारण की तरह इतिहास से अच्छी तरह से वाकिफ नहीं हूं। लेकिन उन्हें राजा राजा चोलन द्वारा निर्मित कराए गए दो चर्चों और मस्जिदों के बारे में बताने दें। उन्होंने खुद को शिवपाद सेकरन कहा है। क्या वे हिंदू नहीं थे।'