सामने आया समीर वानखेड़े का निकाहनामा, 15 साल पहले किया था मुस्लिम युवती से विवाह

समीर वानखेड़े का निकाहनामा एनसीपी नेता नवाब मलिक ने अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया है, उन्होंने बताया है अज़ीज़ खान निकाह का गवाह था, जो कि समीर वानखेड़े की बड़ी बहन यास्मीन दाऊद वानखेड़े का पति है

Updated: Oct 27, 2021, 10:51 AM IST

सामने आया समीर वानखेड़े का निकाहनामा, 15 साल पहले किया था मुस्लिम युवती से विवाह
Photo Courtesy: Twitter

मुंबई। समीर वानखेड़े के कथित फर्जीवाड़े का लगातार खुलासा हो रहा है। एनसीपी नेता नवाब मलिक ने एनसीबी अधिकारी का निकाहनामा साझा किया है, जिसके मुताबिक दिसंबर 2006 में समीर वानखेड़े ने एक मुस्लिम युवती से विवाह किया था। समीर वानखेड़े के जीजा का नाम भी निकाहनामे में बतौर गवाह दर्ज है। नवाब मलिक ने अपने दावे की पुष्टि के लिए समीर वानखेड़े की निकाह की तस्वीर भी साझा की है। जिसमें वानखेड़े और एक युवती के साथ दुल्हा दुल्हन के लिबास में नज़र आ रहे हैं। 

एनसीपी नेता ने समीर वांखखेड़े के निकाहनामे को सजाया करते हुए कहा है कि 7 दिसंबर 2006 को मुंबई के अंधेरी(पश्चिम) स्थित लोखंडवाला परिसर में एक निकाह हुआ था। यह निकाह समीर दाऊद वानखेड़े और शबाना कुरेशी के बीच हुआ था। नवाब मलिक ने बताया कि निकाह में महर की रकम 33 हजार रखी गई थी। वहीं निकाह का गवाह नंबर दो अजीज खान समीर वानखेड़े की बड़ी बहन यास्मीन दाऊद वानखेड़े का पति है। 

एनसीपी नेता ने समीर वानखेड़े के निकाहनामे को साझा करते हुए यह भी स्पष्ट किया है कि मैं समीर वानखेड़े का पर्दाफाश उसके धर्म को लेकर नहीं कर रहा हूं। मैं सिर्फ इस समीर वानखेड़े के इस फर्जीवाड़े को सामने लाना चाहता हूं जो कि उसने आईआरएस की नौकरी हथियाने के लिए किया। और एक दलित व्यक्ति की नौकरी छिन गई।

यह भी पढ़ें: जल्द जाएगी समीर वानखेड़े की नौकरी, आर्यन खान खान को फंसाया गया: नवाब मलिक

इससे पहले नवाब मलिक ने बुधवार सुबह को यह जानकारी दी थी कि वे जल्द ही समीर वानखेड़े का निकाहनामा साझा करेंगे। इस मामले में अब तक नवाब मलिक कई खुलासे कर चुके हैं। समीर वानखेड़े के कास्ट सर्टिफिकेट से लेकर 26 मामलों में वसूली के लिए किए गए प्रयास को एनसीपी नेता ने उजागर किया है। 

यह भी पढ़ें : SPECIAL 26: समीर वानखेड़े पर ड्रग्स के झूठे केस में फंसाकर 26 मामलों में फिरौती के प्रयास का आरोप

एनसीपी नेता ने यह भी कहा है कि अगर उनके द्वारा प्रस्तुत किए गए दस्तावेज नकली हैं, तो समीर वानखेड़े असली दस्तावेज सामने रख दें। नवाब मलिक ने कहा है कि वे इन दस्तावेजों की सत्यता को लेकर सौ फीसदी आश्वस्त हैं। एनसीपी नेता ने यह भी दावा किया कि जल्द ही एनसीबी के अधिकारी को अपनी नौकरी से हाथ धोने पड़ जाएंगे।