रोहिणी कोर्ट के भीतर गैंगवार, ताबड़तोड़ फायरिंग से थर्राया कोर्ट रूम, गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की मौत

रोहिणी कोर्ट में थी गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की पेशी, टिल्लू गैंग ने कर रखी थी फील्डिंग, जज के सामने टिल्लू गैंग के लोगों ने शुरू कर दी फायरिंग, पुलिस ने एक इनामी बदमाश को मार गिराया

Updated: Sep 24, 2021, 04:48 PM IST

रोहिणी कोर्ट के भीतर गैंगवार, ताबड़तोड़ फायरिंग से थर्राया कोर्ट रूम, गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की मौत

नई दिल्ली। देश की राजधानी नई दिल्ली से गैंगवार की एक सनसनीखेज खबर सामने आई है। शुक्रवार को गैंगस्टरों ने कोर्ट के भीतर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई। इस दौरान टिल्लू गैंग के गुर्गों में कुख्यात गैंगस्टर जितेंद्र गोगी को कोर्ट रूम में ही मार डाला। बताया जा रहा है कि घटना के वक़्त गोगी की कोर्ट में पेशी चल रही थी। इस दौरान कोर्ट में मौजूद पुलिसकर्मियों ने भी खूब गोलीबारी की। पुलिस फायरिंग में दो हमलावरों की मौत की खबर है।

रोहिणी कोर्ट में हुई गैंगवार की घटना का वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में ताबड़तोड़ फायरिंग की आवाज स्पष्ट रूप से सुनी जा सकती है। इसके अलावा कोर्ट परिसर में मची अफरातफरी से स्थिति का आंदाजा लगाया जा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक गोगी गैंग के सरगना व दिल्ली का कुख्यात गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की आज रोहिणी कोर्ट में पेशी थी। कोर्ट के रूम नंबर 207 के अंदर जज इजलास पर बैठे थे और सुनवाई चल रही थी। तभी अचानक वकील के भेष में आए टिल्लू गैंग के बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें: असम पुलिस ने ऑन कैमरा बुजुर्ग को मारी गोली, तड़पते बुजुर्ग के साथ कैमरामैन ने की बर्बरता, मौत

फायरिंग शुरू होते ही कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया। कोर्ट रूम में मौजूद पुलिसकर्मी और जज जबतक कुछ समझ पाते तबतक हमलावरों ने जितेंद्र गोगी को एक के बाद एक तीन गोलियां मारी, जिससे मौके पर ही गोगी की मौत हो गई। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस गोलीबारी में दोनों हमलावर मारे गए। इनमें से एक हमलावर पर 50 हजार रुपए का इनाम था। 

कोर्ट में मौजूद वकीलों के मुताबिक पुलिस ने करीब 25 से 30 राउंड फायरिंग की। वकील के ड्रेस में मारे गए टिल्लू गैंग के सदस्यों की पहचान मोरिस और राहुल के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक राहुल उत्तर प्रदेश के बागपत में योवीन हत्याकांड में वांटेड था। जबकि मोरिस बहादुरगढ़ के गूलर प्रधान हत्याकांड में वांटेड था। दिल्ली पुलिस के कमिश्नर राकेश अस्थाना ने इस घटना को गैंगवॉर मानने से इनकार कर दिया है। अस्थाना के मुताबिक यह जितेंद्र गोगी पर हमला है। पुलिस का कहना है कि टिल्लू गैंग ने पहले से ही गोगी की हत्या की पूरी फील्डिंग कर रखी थी।