कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडिस का हुआ निधन, शोक में डूबी कांग्रेस

ऑस्कर फर्नांडिस मंगलुरू के एक अस्पताल में भर्ती थे, वे 80 वर्ष के थे

Updated: Sep 13, 2021, 04:18 PM IST

कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडिस का हुआ निधन, शोक में डूबी कांग्रेस
Photo Courtesy : TV 9

नई दिल्ली। वरिष्ठ कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडिस का निधन हो गया है। ऑस्कर फर्नांडिस लंबे समय से बीमार चल रहे थे। मंगलवार को मंगलुरु के एक अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। ऑस्कर फर्नांडिस के निधन के बाद पूरी कांग्रेस पार्टी शोक में डूब गई है।

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने ऑस्कर फर्नांडिस के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि अपने वरिष्ठ साथी ऑस्कर फर्नांडिस के निधन की खबर सुनकर पीड़ा में हूं। उन्होंने अपना जीवन पार्टी को समर्पित किया था, और उनका योगदान हमेशा याद रखा जाएगा। हम सब को उनकी कमी खलेगी।

वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ऑस्कर फर्नांडिस के निधन पर अपनी पीड़ा साझा करते हुए कहा है कि आज कांग्रेस का बरगद का पेड़ गिर गया है। सुरजेवाला ने दिवंगत नेता को याद करते हुए कहा कि ऑस्कर फर्नांडिस जी एक मार्गदर्शक, मेंटर और संगठन को खड़ा करने वाली शख्सित थे। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को आपस में जोड़ने का काम किया और बदले में सभी ने उन्हें ढ़ेर सारा प्यार दिया। सुरजेवाला ने आगे कहा कि आज कांग्रेस पार्टी का एक बरगद का पेड़ गिर गया है।

राहुल गांधी ने ऑस्कर फर्नांडिस के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि उनका जाना मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। वे मेरे अलावा कांग्रेस पार्टी के कई नेताओं के लिए एक मार्गदर्शक और मेंटर थे। उनकी हमेशा कमी खलेगी। 

वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से प्रधानमंत्री का शोक संदेश भी जारी किया गया है। शोक संदेश में कहा गया है कि ऑस्कर फर्नांडिस जी के निधन से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में मेरी प्रार्थनाएं उनके परिवार और शुभचिंतकों के प्रति है। उनकी आत्मा को शांति मिले।

ऑस्कर फर्नांडिस इसी साल जुलाई महीने में चोटिल भी हो गए थे। कांग्रेस नेता को योग करते समय चोट लग गई थी। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

ऑस्कर फर्नांडिस पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के संसदीय सचिव रहे थे। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पहले कार्यकाल में वे श्रम एवं रोज़गार मंत्री रहे थे। वहीं दूसरे कार्यकाल में वे परिवहन मंत्री बने। ऑस्कर फर्नांडिस कांग्रेस पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति के अध्यक्ष भी रह चुके थे। ऑस्कर फर्नांडिस ने 1980 में कर्नाटक की उदिपी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था और चुनाव जीत कर वे संसद पहुंचे थे। इसके बाद ऑस्कर फर्नांडिस 1996 तक लगातार इसी सीट से चुनाव जीतते रहे। इसके बाद 1998 में वे राज्यसभा के ज़रिए संसद पहुंचे। 2004 में वे दोबारा राज्यसभा में चुने गए।