जब पहली बार दिलीप कुमार से मिले थे, भावुक हुए राजनाथ, सियासी जगत ने चहेते अभिनेता को ऐसे किया याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह समेत तमाम दिग्गजों ने दिलीप कुमार को श्रद्धांजलि दी है, दिलीप कुमार ने 98 साल की उम्र में आखिरी सांसें ली

Updated: Jul 07, 2021, 03:44 PM IST

जब पहली बार दिलीप कुमार से मिले थे, भावुक हुए राजनाथ, सियासी जगत ने चहेते अभिनेता को ऐसे किया याद
Photo Courtesy: Twitter

मुंबई। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के निधन से देशभर में शोक की लहर दौड़ गई है। बॉलीवुड से लेकर सियासी जगत तक के लोग अपने चहेते अभिनेता को नम आंखों से श्रद्धांजलि दे रहे हैं। पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर तमाम लोगों ने उन्हें याद किया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, 'दिलीप कुमार जी को सिनेमा जगत के लीजेंड के रूप में याद किया जाएगा। उन्हें अद्वितीय प्रतिभा का आशीर्वाद प्राप्त था, जिसके कारण कई पीढ़ियों के दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए थे। उनका जाना हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए एक क्षति है। उनके परिवार, दोस्तों और असंख्य प्रशंसकों के प्रति संवेदना।'

केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने दिलीप कुमार के साथ हुई अपनी पहली मुलाकात को याद करते हुए एक भावुक पोस्ट लिखा है। राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, 'मैं दिलीप कुमार जी से व्यक्तिगत रूप से तब मिला था, जब मैं उन्हें पद्म विभूषण सम्मान देने के लिए मुंबई गया था। वह मेरे लिए विशेष पल थे, जब मुझे महान अभिनेता के साथ बातचीत करने का सौभाग्य मिला था। दिलीप जी का निधन भारतीय सिनेमा के लिए अपूरणीय क्षति है। उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।' 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी दिलीप कुमार के निधन पर शोक व्यक्त किया है। राहुल ने ट्वीट किया, 'दिलीप कुमार जी के परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। भारतीय सिनेमा में उनके असाधारण योगदान को आने वाली पीढियां याद करेंगी।' 

दिलीप कुमार ने आज सुबह 98 वर्ष की उम्र में आखिरी सांसें ली। रिपोर्ट्स के मुताबिक सांस लेने में तकलीफ के बाद पिछले बुधवार को उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दिलीप कुमार को एक्टिंग के लिए 8 बार बेस्ट एक्टर के तौर पर फ़िल्म फेयर अवार्ड मिला है। हिंदी सिनेमा के सबसे बड़े सम्मान दादा साहब फाल्के अवार्ड से भी उन्हें सम्मानित किया जा चुका है। साल 2015 में भारत सरकार ने देश का दूसरा सबसे बड़े सम्मान पद्मभूषण भी दिया था।