SpiceJet सुरक्षित हवाई सेवा स्थापित करने में विफल रहा, 18 दिन में 8 घटनाओं के बाद केंद्र ने भेजा नोटिस

DGCA ने पिछले 18 दिनों में तकनीकी खराबी की आठ घटनाओं के बाद स्पाइसजेट को कारण बताओ नोटिस जारी किया है, कल एक ही दिन में तीन विमानों में कुछ न कुछ तकनीकी खराबी आई जिसके बाद नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने स्पाइसजेट को खराब आंतरिक गड़बड़ियों पर जवाब देने के लिए कहा है

Updated: Jul 06, 2022, 04:43 PM IST

SpiceJet सुरक्षित हवाई सेवा स्थापित करने में विफल रहा, 18 दिन में 8 घटनाओं के बाद केंद्र ने भेजा नोटिस

नई दिल्ली। कल एक ही दिन में स्पाइसजेट विमानन कंपनी के तीन विमानों में तकनीकी खराबी की गड़बड़ियां सामने आईं। गड़बड़ियों के बाद तीनों विमानों की आपात लैंडिंग कराई गई। एक विमान को तो पाकिस्तान के कराची एयरपोर्ट पर लैंड कराना पड़ा। गनीमत यह रही कि इन तीनों घटनाओं में यात्रियों को किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा। केंद्र सरकार ने इन घटनाओं पर कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है।

केंद्र सरकार ने सरकार ने स्पाइसजेट को उसके खराब आंतरिक सुरक्षा में गंभीर खामी को देखते हुए नोटिस जारी किया है और तीन दिनों के अंदर इसका जवाब देने को कहा है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने स्पाइस जेट को अपने नोटिस में कहा कि स्पाइस जेट सुरक्षित, विश्वसनीय हवाई सेवा स्थापित करने में विफल रहा है।

यह भी पढ़ें: आम आदमी पर फिर पड़ी महंगाई की मार, महंगा हुआ घरेलू गैस सिलेंडर, 50 रुपए बढ़े दाम

आज भी स्पाइस जेट एयर लाइन ने बताया कि मौसम संबंधी रडार के काम ना करने की वजह से उसका एक मालवाहक विमान मंगलवार को कोलकाता लौट आया. चीन के चोंग्किंग शहर जा रहे विमान के पायलट को उड़ान भरने के बाद ही पता चल गया था कि उसका मौसम संबंधी रडार काम नहीं कर रहा है। ‘स्पाइसजेट' के विमान में तकनीकी खराबी का पिछले 18 दिन में सामने आया यह आठवां मामला है।

स्पाइसजेट' के दिल्ली से दुबई जा रहे एक विमान को ईंधन संकेतक में खराबी के कारण मंगलवार को कराची की ओर मोड़ दिया गया था। वहीं उसके कांडला से मुंबई जा रहे विमान को बीच हवा में ‘विंडशील्ड' में दरार आने के बाद महाराष्ट्र की राजधानी में प्राथमिकता के आधार पर उतारा गया था।