Corona मुसीबत में छत्तीसगढ़  को 1500 करोड़ की राहत

मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल के प्रयास रंग लाए, आठ लाख मीट्रिक टन चावल ज्‍यादा लेगा केंद्र

Updated: May-23, 2020, 05:56 PM IST

corona मुसीबत में छत्तीसगढ़  को 1500 करोड़ की राहत

Coronavirus india महामारी और lockdown 4.0 से उपजे आर्थिक संकट के दौर में छत्तीसगढ़ सरकार के लिए एक राहत भरी खबर है। लगातार कोशिशों के बाद छत्तीसगढ़ सरकार के पास अतिरिक्त बचा आठ लाख मीट्रिक टन चावल केंद्र सरकार लेने को राजी हो गई है। केंद्रीय पूल में छत्तीसगढ़ 32 लाख मीट्रिक टन चावल देगा। इससे राज्य सरकार का 1500 करोड़ रुपया बचेगा। केंद्र सरकार अगर यह चावल ना लेता तो यह पूरी धनराशि छत्तीसगढ़ को अपने बजट से देनी पड़ती।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कई बार खाद्य मंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक को इस बारे में पत्र लिखा था। केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवाल के साथ छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से चर्चा हुई। जिसके दौरान छत्तीसगढ़ से 24 लाख मीट्रिक टन चावल सेंट्रल पूल में लेने की परमीशन मिली है।

Click  रायपुर ने चुकाई कोरोना की कीमत 15 हजार करोड़

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में 2019-20 में 18.34 लाख किसानों से समर्थन मूल्य पर कुल 83.67 लाख टन धान की खरीद हुई है। इससे करीब 56.51 लाख मीट्रिक टन चावल तैयार होने की उम्मीद है। केंद्र सरकार ने इसमें से 24 लाख मीट्रिक टन केंद्रीय पूल में लेने की सहमति दी थी। इसके साथ ही राज्य की पीडीएस की आवश्यकता की जरूरत के लिए 25.40 लाख मीट्रिक टन चावल रखने की भी केंद्र सरकार ने अनुमति दी है।