आम का अचार, खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ इम्यूनिटी भी करेगा बूस्ट

आम के अचार में कई प्रकार के विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं, यह शरीर को फ्री रेडीकल्स से सुरक्षा देता है, पाचन के साथ साथ इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करता है

Updated: Jun 10, 2021, 04:38 PM IST

आम का अचार, खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ इम्यूनिटी भी करेगा बूस्ट
Photo courtesy: Pakwangali

आम का मौसम है, अपनी कई खूबियों की वजह से आम हरदिल अजीज होता है। भारतीय घरों में आम की कई रेसेपीज बनाई जाती है। खट्टे आम का अचार, पना, लौंजी के साथ-साथ पके हुए आम का रस सभी को पंसद आता है। हल्की बारिश शुरु होते ही घरों में आम का अचार बनाने की तैयारी हो जाती है। वैसे तो दादी नानी के नुस्खे से तो कई बार अचार बनाया जाता रहा है।

हर इलाके में अलग अलग तरीके से अचार बनाया जाता है। स्वाद के साथ-साथ अचार में कई गुण पाए जाते हैं।  इनमें विटामिन C, विटामिन A, विटामिन K के साथ आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम और फोलेट भी पाया जाता है। जो कि शरीर के लिए फायदेमंद हैं।

 आम का अचार बनाने के लिए सामग्री

250 ग्राम कच्चे आम, 50 ग्राम मेथी दाना, 30 ग्राम सौंफ, सरसों का तेल 200 लाल मिर्च स्वादानुसार, 5 सूखी साबुत मिर्च, हल्दी पाउडर 3 चम्मच, हींग पाउडर 2 छोटे चम्मच, नमक ¼ कप। अगर आप अचार का मसाला घर पर नहीं बनाना चाहते तो बाजार से रेडीमेड अचार मिक्स भी लिया जा सकता है।

 आम का अचार बनाने की विधि

आम का अचार बनाने के लिए आमों को धोकर उसका पानी सुखा लें। फिर उसके छोटे-छोटे टुकड़े कर लें। अब एक पैन में एक कप सादा नमक डालें और कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। जिससे नमक की नमी निकल जाए। अब रेडीमेड अचार मसाला उसमें मिला दें। अब दूसरी तरफ एक कढ़ाई में सरसों का तेल गर्म करके उसे ठंडा कर लें। अब एक छोटे पैन में एक कप तेल गर्म करके उसमें सरसों के दाने चटकाएं और उसमें 2 बड़े चम्मच हींग डालें और धीमी आंच पर चटकाएं, और गैस बंद कर दें। अब यह पूरा तेल आम के मिक्स में डाल दें और उसे अच्छे से मिलाएं। मार्केट के मसाले में अचार में कलर बहुत अच्छा आता है। देखने में भी और खाने में भी अच्छा लगता है। अब इस आम के अचार के साफ और सूखी कांच की शीशी में रख दें और अचार भरने के बाद उसमें ऊपर से तेल डाल दें। तीन चार दिनों बाद यह अचार खाने लायक हो जाता है। जिसे आप खाने के साथ सर्व कर सकते हैं।

अगर आप घर के मसाले से अचार तैयार कर रहे हैं तो कढ़ाई में तेल गर्म करें। इसमें सूखी साबुत मिर्च डालें। मेथी और सौंफ डाल कर तड़का लें। अब पूरे मसाले बारी-बारी से कढ़ाई में डालकर चलायें। फिर इसमें कटा हुआ आम डाल दें। आम डालने के बाद उसे चलाते रहें ताकि अचार कढ़ाई में लगे नहीं। अब गैस बंद कर दें और अचार को ठंडा होने दें। फिर नार्मल टैंपरेचर में आने के बाद उसे शीशी में स्टोर करें।

थाली में खाने से साथ रखा अचार जहां खाने का स्वाद दोगुना करता है, वहीं यह सेहत के लिए फायदेमंद भी है। अचार एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। जो की बॉडी को फ्री-रेडिकल्स के प्रभाव को कम करता है।

प्रेगनेंसी के दौरान अचार खाने का मन करता है। कहा जाता है आम या नींबू का अचार खाने से प्रेगनेंट महिलाओं को होने वाली कमजोरी से आराम मिलता है।

वेट लॉस की प्रोसेस में भी अचार फायदेमंद है। सीमित मात्रा में खाया गया अचार वजन कम करने में हेल्प करता है। अचार में मौजूद मसाले फैट को टुकड़ों में बांट देते हैं, जिससे वेट कम होता है, इनमें कैलोरी भी बहुत कम होती है। अचार खाने से मेटाबॉलिज्म अच्छा होता है। अचार में पाए जाने वाले फाइबर्स डाइजेशन में मददगार होते हैं। इम्यूनिटी बढ़ाने में भी आम के अचार फायदेमंद होता है।