कोरोना वैक्सीन लोगों को बना देगी मगरमच्छ, ब्राजील के राष्ट्रपति का बयान

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो ने कोरोना वैक्सीन के साइड इंफ़ेक्ट्स बताते हुए जनता से इसे नहीं लेने की अपील की है, वो खुद भी वैक्सीन नहीं लेंगे

Updated: Dec 19, 2020, 07:04 PM IST

कोरोना वैक्सीन लोगों को बना देगी मगरमच्छ, ब्राजील के राष्ट्रपति का बयान
Photo Courtesy: Freepress Journal

ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो ने एक बार फिर से दोहराया है कि वह कोरोना वायरस की वैक्सीन नहीं लेंगे। उन्होंने वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स को लेकर भी अजीबोगरीब बातें कही है। उन्होंने कहा है कि इस वैक्सीन को लेने के बाद इंसान मगरमच्छ बन सकता है और महिलाओं को दाढ़ी उग सकती है। दुनिया के बड़े देशों में शामिल ब्राजील के राष्ट्रपति के इस अजीब बयान ने लोगों को हैरत में डाल दिया है।

राष्ट्रपति बोल्सोनारो ने कहा, 'मैं कोरोना वैक्सीन नहीं लूंगा। कुछ लोग कहते हैं कि मैं ऐसा करके गलत उदाहरण सेट कर रहा हूं। जो यह कहते हैं वह मूर्ख हैं, मुझे पहले संक्रमण हो चुका है। मेरे पास एंटीबॉडीज हैं। फिर मैं ये वैक्सीन क्यों लूं?'

बोल्सोनारो ने आगे कहा, 'आप सभी को बताना चाहता हूं कि फाइजर की वैक्सीन के कॉन्ट्रेक्ट में साफ-साफ लिखा है कि 'कंपनी किसी भी दुष्प्रभाव के लिए जिम्मेदार नहीं होगी। अगर आप एक मगरमच्छ बन जाते हैं तो यह आपकी समस्या है। अगर आप एक सुपरमैन बन जाते हैं, अगर कुछ महिलाओं की दाढ़ी निकलने लगती है या कोई पुरुष महिलाओं की तरह बात करने लगता है तो यह मेरी गलती नहीं है।'

ब्राजील के राष्ट्रपति शुरू से ही कोरोना वायरस और उसके इलाज़ के बारे में विवादास्पद बातें करते रहे हैं। उन्होंने बीते साल इस वायरस को 'मामूली फ्लू' बताया था। जबकि ब्राजील सरकार ने कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीनेशन के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक अभियान शुरू किया है। वैक्सीन को ब्राजील की रेग्युलेटरी एजेंसी Anvisa से मंजूरी मिलने पर यह सबके लिए उपलब्ध होगी।

ब्राज़ील संक्रमण के मामलों के हिसाब से दुनियाभर में तीसरे नंबर पर और मौतों के मामले में दूसरे नंबर पर रहा है। ब्राजील में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 71 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं, जिनमें 1 लाख 85 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।