टेक्सास शूटिंग: 19 बच्चों समेत 21 लोगों की गोली मारकर हत्या, राष्ट्रपति बाइडेन ने गन लॉबी के ख़िलाफ़ उठाए सवाल

18 वर्षीय हमलावर ने मंगलवार को टेक्सास के एक प्राइमरी स्कूल में जमकर गोलियां बरसाईं, जिसमें 21 लोगों की जान चली गई, इनमें पहली कक्षा से लेकर चौथी तक पढ़ने वाले 19 छात्र भी शामिल हैं

Updated: May 25, 2022, 10:56 AM IST

टेक्सास शूटिंग: 19 बच्चों समेत 21 लोगों की गोली मारकर हत्या, राष्ट्रपति बाइडेन ने गन लॉबी के ख़िलाफ़ उठाए सवाल

ह्यूस्टन: टेक्सास के उवाल्डे में प्राइमरी स्कूल में हुई गोलीबारी की घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 21 हो गई है। मृतकों में 19 बच्चों समेत कुल 21 लोग शामिल हैं। बता दें कि 18-वर्षीय सनकी हमलावर ने मंगलवार को टेक्सास के एक प्राइमरी स्कूल में जमकर गोलियां बरसाईं, जिसमें 21 लोगों की जान चली गई। स्टेट के गवर्नर के अनुसार, देश के स्कूल में यह एक घातक हमला है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि अब एक्शन लेने का वक्त है।

गवर्नर ग्रेग एबट ने बताया कि शूटर की पहचान 18 साल के शूटर की पहचान सल्वाडोर रामोस के तौर पर हुई है। वो स्थानीय अमेरिकी नागरिक है। उन्होंने बताया कि शंका है कि पहले उसने अपनी दादी को गोली मारी, फिर वो रॉब एलिमेंट्री स्कूल आया। इसके पहले उसने अपनी गाड़ी छोड़ी। आशंका है कि वो अपने साथ एक हैंडगन और संभवत राइफल लाया। घटनास्थल से उसकी लाश भी मिली, इसपर कहा जा रहा है कि रिस्पॉन्डिंग ऑफिसर ने उसे गोली मारी होगी।

यह भी पढ़ें: कोरोना महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक अरबपति: ऑक्सफैम रिपोर्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने नरसंहार के कुछ घंटे बाद राष्ट्र को संबोधित किया जहां उन्होंने नए बंदूक प्रतिबंधों का आह्वान किया। क्वॉड सम्मेलन के बाद जापान से लौटे राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अमेरिका की 'गन लॉबी' पर जमकर निशाना साधा। बाइडेन ने कहा, "इस तरह की मास शूटिंग दुनिया में कहीं और कम ही होती है। क्यों? दूसरे देशों में मानसिक स्वास्थ्य की समस्या है, उनके घरेलू विवाद हैं। लेकिन बार-बार इस तरह से वहां गोलीबारी नहीं होती जैसे अमेरिका में होती है। हम इस तरह की मार-काट के बीच क्यों रहना चाहते हैं?"

बाइडन ने कहा, "अब उन लोगों का भी समय आ गया है जो हथियार के लिए नए कानून की राह में अड़चन डाल रहे हैं। हमें आपको बताने की जरूरत है कि हम ये नहीं भूलेंगे। हम बहुत कुछ कर सकते हैं और हमें करना होगा।" उन्होंने कहा, “एक राष्ट्र के रूप में हमें खुद से पूछना होगा, भगवान के लिए हम कब बंदूक लॉबी के सामने खड़े कब खड़े होंगे? हम कब वो काम करेंगे जिसे करने की जरूरत है?” बाइडेन ने पूछा। “हम क्यों इस नरसंहार के साथ जीने को तैयार हैं?"

टेक्सास में हुई गोलीबारी के बाद पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि उनका देश लकवाग्रस्त हो चुका है। उन्होंने कहा, "पूरे देश में माँ-बाप अपने बच्चों को बिस्तर पर सुलाते हैं, कहानी और लोरियां सुनाते हैं। लेकिन उनके दिमाग में कहीं ये चिंता रहती है कि अगर कल को वो अपने बच्चे को स्कूल में, किसी दुकान या किसी भी सार्वजनिक जगह पर छोड़कर जाते हैं, तो उसके साथ क्या हो जाएगा।"