काबुल में सुसाइड बॉम्बर से भरी गाड़ी पर अमेरिका ने ड्रोन से किया एयर स्ट्राइक

गाड़ी में बड़ी मात्रा में थे विस्फोटक, तेज धमाके के कारण कुछ देर मची रही अफरातफरी

Publish: Aug 29, 2021, 11:33 PM IST

काबुल में सुसाइड बॉम्बर से भरी गाड़ी पर अमेरिका ने ड्रोन से किया एयर स्ट्राइक
courtesy: NDTV

नई दिल्ली 
काबुल स्थित हामिद करजई एयरपोर्ट के लिए खतरा बने आईएसआईएस खुरसान के एक सुसाइड बॉम्बर से भरी गाड़ी को अमेरिका ने रविवार को ड्रोन से एयर स्ट्राइक करके तबाह कर दिया। गाडी में बड़ी मात्रा में विस्फोटक भरे हुए थे। अमेरिकी सेना के अनुसार इस गाड़ी में कई सुसाइड बॉम्बर मौजूद थे जो काबुल स्थित इंटरनेशनल एयरपोर्ट की ओर जा रहे थे। अमेरिका ने उन्हें रोकने के लिए उन पर ड्रोन के जरिये एयर स्ट्राइक किया। अमेरिका ने एयर स्ट्राइक के सफल होने का दावा किया है।  
यूएस सेंट्रल कमांड के प्रवक्ता बिल अर्बन ने कहा कि रविवार को अमेरिका की सेना ने काबुल में एक वाहन पर ड्रोन से एयर स्ट्राइक किया।  
इस गाड़ी में आईएसआईएस खुरसान के सुसाइड बॉम्बर मौजूद थे। इस गाड़ी पर एयर स्ट्राइक करने के साथ ही काबुल एयरपोर्ट पर मंडरा रहा आईएस का खतरा समाप्त हो गया है।  अर्बन ने ये भी कहा कि इस हमले में किसी नागरिक की मौत नहीं हुई है। हालांकि इस हमले में 6 लोगों के मारे जाने की खबर भी सामने आई है। गाड़ी को निशाना बनाकर मिसाइल से किये गए हमले के बाद तेज धमाके की आवाज से चारों तरफ कुछ देर के लिए अफरातफरी मच गई। इस हमले के तुरंत बाद तालिबान की ओर से कहा गया कि काबुल एयरपोर्ट के पास आईएस ने राकेट से हमला किया है। लेकिन थोड़ी ही देर बाद अमेरिका की सेना की और से बयान दिया गया कि सुसाइड बॉम्बर पर उनकी तरफ से एयर स्ट्राइक किया गया है। 
गौरतलब है कि गुरुवार को काबुल एयरपोर्ट के पास किये गए कई बम धमाकों में 169 लोगों की मौत हो गई थी। अमेरिका के 13 सैनिकों की भी मौत हुई थी। इसके बाद 48 घंटे से भी कम समय में अमेरिका ने ड्रोन से एयर स्ट्राइक करके  काबुल धमाकों के साजिशकर्ता को मार गिराया था। इस कार्रवाई का बदला लेने के लिए आईएस की तरफ से काबुल एयरपोर्ट पर हमले की आशंका बनी हुई थी। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी इस संबंध में चेतावनी दी थी। काबुल स्थित अमेरिकी दूतावास ने भी अपने नागरिकों को एयरपोर्ट से दूर रहने का अलर्ट जारी किया था। लेकिन ड्रोन से आईएसआईएस पर रविवार को हमला करने के बाद अमेरिकी सेंट्रल कमांड ने कहा है कि अब काबुल एयरपोर्ट पर आईएस के हमले का खतरा खत्म हो गया है।