दिवाली पर भोपाल में निकला 1000 टन कचरा, सुबह 5 बजे से सफाई में जुटे थे साढ़े सात हजार सफाईकर्मी

राजधानी में आम दिनों में 800 टन कचरा निकलता है, लेकिन दिवाली की रात आतिशबाजी के कचरे की वजह से आंकड़े में 25 फीसदी तक की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

Updated: Oct 25, 2022, 06:16 PM IST

दिवाली पर भोपाल में निकला 1000 टन कचरा, सुबह 5 बजे से सफाई में जुटे थे साढ़े सात हजार सफाईकर्मी

भोपाल। देश के 7वां सबसे साफ शहर भोपाल में दिवाली के अगले दिन एक हजार तक कचरा निकला। निगम अधिकारियों के मुताबिक दिवाली के कारण कचरे में 25 फीसदी तक की बढ़ोतरी देखी गई। आम दिनों में पूरे शहर से जहां 800 टन कचरा निकलता है, वहीं दिवाली पर 200 टन अधिक कचरा निकला।

हालांकि, अत्यधिक कचरा होने के बावजूद भी सफाईकर्मियों ने पूर्व की तरह शहर के कोने-कोने को साफ किया। निगम अफसरों ने बताया कि सुबह 5 बजे से साढ़े सात हजार सफाईकर्मी काम में जुट गए थे। नतीजतन साढ़े नौ बजे तक अधिकांश हिस्सा साफ हो चुका था।

बता दें कि कोरोना की वजह से पिछले दो साल से त्योहार मनाने पर आंशिक पाबंदी रही। लेकिन इस बार कोई रोक नहीं थी। ऐसे में लोग कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते थे। हां, पटाखे फोड़ने पर जरूर रोक रही। शहर में रात 8 बजे से 10 बजे तक दो घंटे ही पटाखे फोड़ने की अनुमति थी। लेकिन रात 10 बजे के बाद भी जमकर आतिशबाजी होती रही।

नतीजतन पटाखे का कचरा भी करीब 25% तक ज्यादा निकला। अधिकारियों ने बताया कि आतिशबाजी के कचरे को अलग रखा गया है। ताकि, उसका अलग से निपटान किया जा सके।