केरल में हुआ अनोखा विवाह, कोविड अस्पताल में PPE किट पहनकर दुल्हन ने कोरोना पॉजिटिव दूल्हे से की शादी

शादियों पर लगी कोरोना की नजर, केरल के अलप्पुझा मेडिकल कॉलेज में कोरोना संक्रमित दूल्हे ने PPE किट पहनी दूल्हन को पहनाया मंगलसूत्र, प्रशासन से ली थी शादी के लिए परमीशन, शादी से चंद दिन पहले ही दूल्हा और उसकी मां हुए थे पॉजिटिव

Updated: Apr 26, 2021, 11:49 AM IST

केरल में हुआ अनोखा विवाह, कोविड अस्पताल में PPE किट पहनकर दुल्हन ने कोरोना पॉजिटिव दूल्हे से की शादी
Photo courtesy: twitter

अलप्पुझा (केरल)। कहा जाता है जोड़ियां आसमान से बनकर आती हैं, कोरोना भी उन जोड़ियों को मिलने से रोक नहीं सकता। केरल के अलप्पुझा में दूल्हा-दूल्हन की शादी कोविड वार्ड में हुई। पारंपरिक  ड्रेस की जगह दुल्हन PPE किट पहनकर अस्पताल में फेरे लेने पहुंची। इस शादी का साक्षी अस्पताल का स्टाफ और कई कोरोना मरीज बने। यह शादी यहां अलेप्पी मेडिकल कॉलेज में संपन्न हुई। जहां रविवार को नव दंपति ने सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाई और शादी की रस्में निभाई गई।

अस्पताल से आई तस्वीरें वायरल हो रही है। इस शादी की खास बात यह रही कि दुल्हन ने शादी के जोड़े की जगह पीपीई किट, मास्क और फेस शील्ड पहन रखा था। दरअसल दूल्ह सरतमोन  विदेश की किसी कंपनी में काम करते हैं। वे शादी के लिए ही केरल आए थे। लेकिन शादी की तैयारियों के दौरान वे कोरोना और उनकी मां कोरोना की चपेट में आ गए। जिसके बाद सरतमोन और उनकी मां दोनों को अलप्पुझा मेडिकल कॉलेज के कोविड वॉर्ड में भर्ती किया गया।

जिसके बाद वर और वघु पक्ष ने विचार विमर्श के बाद तय तारीख को ही शुभ मुहूर्त में शादी करने का फैसला किया। जिसके बाद डीएम और संबंधित अधिकारियों से बाकायदा परमीशन ली गई। प्रशासन से मंजूरी मिलने के बाद कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए शरत और अभिरामी की शादी की रस्में मेडिकल कॉलेज के कोविड वॉर्ड में निभाई गईं।

 

दूल्हे मे अपनी मां और दुल्हन के एक परिजन की मौजूदगी में वार्ड के एक स्पेशल रूम में दुल्हन अभिरामी को मंगलसूत्र और तुलसी की माला पहनाई।जब दुल्हन बनी अभिरामी कोरोना वॉर्ड में आइसोलेशन में रह रहे दूल्हे से शादी करने पहुंची। PPE किट में दुल्हन को देखकर हर कोई हैरान हो रहा है।

बता दें कि कोरोना का कह देशभर के साथ केरल में भी जारी है। बीते 24 घंटों में केरल में कोरोना के 28 हजार 469 नए मरीज मिले हैं। 30 मरीजों की मौत हो गई है। वहीं प्रदेश में कोरोना एक्टिश केसों की संख्या 2 लाख 18 हजार 893 है। वहीं अब तक 5 हजार 110 लोगों की मौत हुई है।