सीधी पेशाबकांड के पीड़ित को CM ने बुलाया भोपाल, कांग्रेस ने लगाए हाईजैक करने के आरोप

इवेंट मामा के नाम चर्चित सीएम शिवराज जी सीधी के आदिवासी पीड़ित परिवार से मिलने जाने की जगह उन्हें हाइजैक करवाकर भोपाल बुला रहे हैं: अरुण यादव

Updated: Jul 06, 2023, 11:22 AM IST

भोपाल। सीधी पेशाब कांड पर मचे बवाल के बीच बीजेपी डैमेज कंट्रोल में जुट गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पेशाब कांड के पीड़ित और उसके परिजनों को मिलने के लिए भोपाल बुलाया है। सीएम चौहान ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री पर पीड़ित और उसके परिजनों को हाइजैक करने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस के सीनियर नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने ट्वीट किया, 'इवेंट मामा के नाम चर्चित सीएम शिवराज जी सीधी के आदिवासी पीड़ित परिवार से मिलने जाने की जगह उन्हें हाइजैक करवाकर भोपाल बुला रहे हैं। यह बड़ा दुःखद है कि दशमत रावत की बीवी व बच्चे घर पर पीड़ित की वापसी के लिए विलाप कर रहे हैं। कृप्या करके शिवराज जी इस दुःखद घटना को इवेंट न बनाएं।'

इससे पहले सीएम चौहान ने जानकारी देते हुए ट्वीट किया, 'जबसे मैंने सीधी की घटना का वीडियो देखा, अंतर्मन अत्यधिक व्याकुल और हृदय पीड़ा से भरा हुआ है।  मैं तबसे ही दशमत जी से मिलकर उनका दुःख बांटना चाहता था और यह विश्वास भी दिलाना चाहता था कि उनको न्याय मिलेगा। कल उनसे और उनके परिवार से भोपाल में अपने निवास पर मिलकर अपनी संवेदनाएं व्यक्त करने के साथ परिवार को ढांढस बंधाऊंगा।'

बता दें कि कांग्रेस पुलिस-प्रशासन पर पीड़ित को बंधक बनाने का आरोप लगा रही है। बुधवार को कांग्रेस विधायक कमलेश्वर पटेल पीड़ित के घर धरने पर बैठ गए थे। पटेल का आरोप था कि पेशाबकंड के पीड़ित को 24 घंटे से पुलिस बंधक बनाकर रखी है। उसे घर नहीं जाने दिया जा रहा है। पीड़ित के परिजन चिंतित हैं, घर में चूल्हा नहीं जला है। लेकिन पुलिस दबाव डालकर बयान बदलवाने के लिए उसे बंधक बनाए हुए है।