रायसेन में गणेश जुलूस के दौरान सांप्रदायिक तनाव, जुलूस में शामिल असामाजिक तत्वों ने की तोड़फोड़ और आगजनी

मध्य प्रदेश रायसेन जिला अंतर्गत उदयपुरा में गणेश विसर्जन के दौरान सांप्रदायिक तनाव का माहौल उत्पन्न हो गया, यहां एक महिला ने कुछ युवकों पर चप्पल फेंक दिया, इसपर हिंदूवादी संगठन के लोग भड़क गए और उन्होंने कस्बे में जमकर तोड़फोड़ और आगजनी की

Updated: Sep 11, 2022, 02:33 PM IST

रायसेन में गणेश जुलूस के दौरान सांप्रदायिक तनाव, जुलूस में शामिल असामाजिक तत्वों ने की तोड़फोड़ और आगजनी

रायसेन। मध्य प्रदेश के रायसेन में शनिवार को गणेश जुलूस को लेकर सांप्रदायिक तनाव का माहौल उत्पन्न हो गया। यहां जुलूस में शामिल असामाजिक तत्वों ने कस्बे में जमकर तोड़फोड़ और आगजनी की। हालांकि, पुलिस ने तत्काल इलाके में धारा 144 लागू कर दिया। पुलिस की तत्परता के कारण सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश नाकाम हो गई।

रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार को उदयपुरा में गणेश विसर्जन की झांकी निकाली गई थी। यह झांकी कोलीपुरा मोहल्ले से होकर गुजर रही थी। झांकी जब एक समुदाय विशेष के घर के पास पहुंची तो युवकों ने डीजे पर तेज आवाज में उत्तेजक धार्मिक गाने लगा दिए। यहां वे देर तक रुके थे इसी बात से भड़की एक महिला ने छत के ऊपर से लड़कों पर चप्पल फेंक दिया।

घटना का वीडियो भी सामने आया है जिसमें छत से चप्पल को गिरते देखा जा सकता है। वीडियो में महिला एक हांडी लेकर बच्चों को डरा भी रही है। इतने में एक बुजुर्ग व्यक्ति आते हैं और लड़कों को वहां से हटा देते हैं। इस मामूली घटना को लेकर असामाजिक तत्वों ने हंगामा शुरू कर दिया।

जुलूस में शामिल असामाजिक तत्वों ने देर शाम कस्बे में उत्पात मचानी शुरू कर दी। उन्होंने दो दर्जन से अधिक वाहनों को छतिग्रस्त कर दिया। मामला बिगड़ने की आशंका देखते हुए रायसेन से कलेक्टर अरविंद दुबे और एसपी विकाश कुमार शाहवाल तत्काल उदयपुरा पहुंचे और उन्होंने इलाके में धारा 144 लागू कर दी। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए उदयपुरा के आसपास के पांच थानों सहित ज़िला मुख्यालय से भारी पुलिस बल मौके पर तैनात किया गया है।