संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए मैं कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में खड़ा हूं: भोपाल में बोले खड़गे

भोपाल स्थित कांग्रेस दफ्तर में मल्लिकार्जुन खड़गे ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी संविधान नष्ट कर रही है, जहां भी कांग्रेस की सरकार आई बीजेपी ने चोरी की

Updated: Oct 12, 2022, 05:18 PM IST

संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए मैं कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में खड़ा हूं: भोपाल में बोले खड़गे

भोपाल। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर मध्य प्रदेश में भी सियासी सरगर्मियां तेज है। अध्यक्ष पद के उम्मीदवार मल्लिकार्जुन खड़गे बुधवार को भोपाल पहुंचे। यहां उन्होंने मध्य प्रदेश के 502 डेलीगेट्स से अपने पक्ष में मतदान करने की अपील की। खड़गे ने इस दौरान कहा कि मैं संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में खड़ा हूं।

कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत के दौरान खड़गे ने कहा कि, 'बीजेपी आज जो काम कर रही है, उसके खिलाफ लड़ना है। फिर चाहे वह बेरोजगारी हो या देश की आर्थिक स्थिति। देश में लोकतंत्र को बनाए रखने के लिए मैं चुनाव लड़ रहा हूं। आइडियोलॉजी की लड़ाई में समय या उम्र नहीं, बल्कि आपकी विचारधारा और मानसिकता मायने रखती है।'

खड़गे ने आगे कहा कि, 'हमारे सामने सबसे बड़ा चैलेंज है, भाजपा की सरकार। ये लगातार शक्तियों का दुरुपयोग कर रही है। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की 6 सरकारें बनीं। वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व द्वारा मणिपुर, गोवा, कर्नाटक में मध्य प्रदेश की सरकार गई। एक तरफ आप कहते हो, हमारे पास जनाधार नहीं है। वहीं, दूसरी ओर जहां हमारी सरकार बनती है, उसे गिराने का प्रयास किया जाता है। संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए मैं इस चुनाव में खड़ा हुआ हूं।'

यह भी पढ़ें: भोपाल में कांग्रेस का नगरीय निकाय सम्मेलन, जयवर्धन बोले- अब पनौती बीजेपी में, इसलिए ग्वालियर में हुई जीत

खड़गे ने कहा कि, 'हमारी लड़ाई सड़क से लेकर सदन तक है। मेरी यही इच्छा है कि यह संगठन का चुनाव ही रहे। हमें एक दूसरे के खिलाफ नहीं, बल्कि हम दोनों को मिलकर भाजपा के खिलाफ लड़ना है।' अध्यक्ष बनने के बाद खड़गे पीएम का चेहरा भी बनेंगे क्या, इस सवाल पर खड़गे ने खुद की बकरे से तुलना करते हुए कहा- ईद पर बचेंगे, तब मोहर्रम में नाचेंगे।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का चुनाव मलिकार्जुन खडगे और शशि थरूर के बीच हो रहा है। इस चुनाव में यह देखना दिलचस्प होगा कि मध्य प्रदेश के डेलीगेट्स किसके पक्ष में मतदान करते हैं। प्रदेश में कुल 502 मतदाता हैं जो इस चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें 15 मनोनीत सदस्य हैं। इसके अलावा 487 प्रतिनिधि वोट डालेंगे। इनमें कांग्रेस के 95 विधायक भी शामिल हैं।