गुना में 65 लाख रुपए की अवैध शराब जब्त, ट्रक में भरकर गुजरात ले जा रहे थे आरोपी

पशुओं को खिलाई जाने वाली खली के बीच छुपाकर ले जा रहे थे शराब, जांच के दौरान 65 पेटियां बरामद, शराब तस्करी के पीछे किसका हाथ है ये पता करने में जुटी पुलिस

Updated: Sep 11, 2021, 09:42 AM IST

गुना में 65 लाख रुपए की अवैध शराब जब्त, ट्रक में भरकर गुजरात ले जा रहे थे आरोपी
Photo Courtesy: Bhaskar

गुना। मध्य प्रदेश के गुना में अवैध शराब का एक बड़ा खेप पकड़ाया है। यहां एक ट्रक में 65 अंग्रेजी शराब की पेटियां बरामद की गई है। बताया जा रहा है कि अवैध शराब से भरी ट्रक उत्तर प्रदेश की ओर से आ रही थी। इसे बीजेपी शासित ड्राई स्टेट गुजरात भेजने की योजना थी। हालांकि, रास्ते में ही मध्य प्रदेश पुलिस ने इसे पकड़ लिया।

शराब की कीमत करीब 65 लाख रुपए आंकी गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने ट्रक चालक को हिरासत में ले लिया है। हालांकि, ट्रक में बैठा एक अन्य आरोपी कूदकर भागने में सफल रहा। गुना एसपी राजीव कुमार मिश्रा ने इसे अवैध शराब के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत गुना पुलिस की बड़ी कार्रवाई बताया है।

यह भी पढ़ें: बदमाशों की खिदमत में जुटी भोपाल पुलिस, थाने में मना जुआरियों के बर्थडे का जश्न, टीआई ने कटवाया केक

गुना एसपी के मुताबिक शुक्रवार सुबह खुफिया इनपुट्स मिली कि शिवपुरी की ओर से एक कंटेनर ट्रक में भारी मात्रा में शराब लेकर आ रहा है। इनपुट के आधार पर जिला पुलिस ने टीम बनाकर नेशनल हाईवे पर चेकिंग शुरू कर दी। पुलिस ने रूठियाई, जंजाली, बीनागंज आदि जगहों पर नाकाबंदी कर दिया। इस दौरान जंजाली पॉइन्ट पर चौकी प्रभारी उप निरीक्षक अरूण सिंह भदौरिया एवं उनकी टीम ने एक संदिग्ध ट्रक को रोक लिया।

पुलिस ने जैसे ही ट्रक को रोका की उसपर से एक व्यक्ति कूदकर भाग गया। वहीं दूसरे व्यक्ति को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया गया। ट्रक सवार दूसरे व्यक्ति ने बताया कि इसमें पशुओं के खाने वाली खली भरी हुई है। हालांकि, संदेह होने पर जब पुलिस ने छानबीन की तो अंग्रेजी शराब की 65 पेटियां बरामद हुई। पुलिस ने हरियाणा के रहने वाले 52 वर्षीय महार सिंह को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें: उज्जैन में मंडल अध्यक्ष ने बर्थडे पर की हर्ष फायरिंग, चेहरे पर नहीं दिखा कानून का डर

पुलिस के मुताबिक आरोपी से पूछताछ की जा रही है, साथ ही अन्य आरोपियों की भी तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि ट्रक को कवर करते हुए कुछ चारपहिया वाहन भी चल रहे थे। हालांकि, वे पुलिस की पकड़ में नहीं आ सके। उधर कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि ट्रक को गुरुवार देर रात ही पकड़ा गया था। हालांकि, पैसे को लेकर बात न बनने पर पुलिस ने शुक्रवार सुबह इसका भंडाफोड़ किया।