सीमा पर शहीद हुए जवान के स्मारक का पैसा डकार गए अधिकारी, दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज पर साधा निशाना

सीमा पर देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए थे बीएसएफ के जवान मनोज गोलकर, उनकी स्मृति में स्मारक बनाने हेतु स्वीकृत राशि को डकार गए अधिकारी, दिग्विजय सिंह बोले - 10 फीट गड्ढा कहां खोद रहे?

Updated: May 24, 2022, 12:48 PM IST

सीमा पर शहीद हुए जवान के स्मारक का पैसा डकार गए अधिकारी, दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज पर साधा निशाना

खंडवा। मध्य प्रदेश में सीएम शिवराज के तमाम दावों के बावजूद भ्रष्टाचार पर लगाम नहीं लग रहा है। खंडवा जिले में भ्रष्टाचार का एक शर्मनाक मामला सामने आया है, जहां के अधिकारी सीमा पर शहीद हुए जवान के स्मारक का पैसा डकार गए। स्वयं सत्ताधारी दल बीजेपी के स्थानीय विधायक ने इस बात की पुष्टि की हैं। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने इस घटना को लेकर सीएम चौहान को निशाने पर लिया है।

मामला खंडवा जिले के पंधाना विधानसभा क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक ग्राम जामठी निवासी युवक मनोज गोलकर बीएसएफ में पदस्थ थे। देश की रक्षा करते हुए दिनांक 23 फरवरी 2020 को वे शहीद हो गए। देश के लिए सर्वोच्च कुर्बानी देने वाले इस भारत मां के बेटे की स्मृति में स्मारक एवं बाउण्ड्रीवाल के निर्माण हेतु राशि स्वीकृत की गई थी लेकिन निर्माण के पूर्व ही ग्राम पंचायत सचिव और अधिकारियों ने राशि डकार लिया।

पंधान से बीजेपी विधायक इंजीनियर राम दांगोरे ने इस बात की जानकारी देते हुए खंडवा कलेक्टर को पत्र भेजा है। बीजेपी विधायक ने दावा किया ही पूर्व में भी कई निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार किया गया है। उन्होंने मांग की है कि इस संबंध में जांच दल (स्थानीय को छोड़कर) गठित कर ग्राम पंचायत बोरगांव बुजुर्ग के विगत 7 वर्षों के निर्माण संबंधी कार्यों की जांच कर दोषी पाये जाने वाले सचिव और अधिकारियों के विरुद्ध कठोर कदम उठाएं।

मामला सामने आने के बाद विपक्षी दल कांग्रेस भी हमलावर हो गई है। पूर्व सीएम व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाते हुए ट्वीट किया, 'शिवराज जी उर्फ़ मामू जी भ्रष्टाचारियों के लिए वो 10 फुट गड्ढा कब और कहॉं खोदने जा रहे हैं? छोटे भ्रष्टाचारियों को छोड़िये अपने गिरेबान में झांक कर देखें, आपके मंत्री व आपके इर्द-गिर्द के लोग किस कदर भ्रष्टाचार में डूबे हुए हैं।'