15 दिन के पसोपेश के बाद राज़ी हुई शिवराज सरकार, वैक्सीन के लिए जारी करेगी ग्लोबल टेंडर

मध्यप्रदेश सरकार से पहले दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और तेलंगाना जैसे राज्य वैक्सीन की उपलब्धता के लिए ग्लोबल टेंडर जारी कर चुके हैं, लेकिन दवा कंपनियों ने दो राज्यों के टेंडर को ठुकरा दिया है

Updated: May 25, 2021, 09:22 PM IST

15 दिन के पसोपेश के बाद राज़ी हुई शिवराज सरकार, वैक्सीन के लिए जारी करेगी ग्लोबल टेंडर

भोपाल। 15 दिन के असमंजस के बाद शिवराज सरकार पर वैक्सीन की सप्लाई के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करने के लिए राज़ी हो गई है। विशेषज्ञों की राय के बाद शिवराज सरकार ने ग्लोबल टेंडर जारी करने का मन बनाया है। खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करने के पक्ष में नहीं थे। लेकिन प्रदेश में वैक्सीन की भारी किल्लत को देखते हुए मुख्यमंत्री ने वैक्सीन के ग्लोबल टेंडर पर अपनी हामी भर दी है।

यह भी पढ़ें : वैक्सीन निर्माता कंपनियों से दिल्ली सरकार को वैक्सीन देने से किया इनकार

दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और तेलंगाना की सरकार वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर निकाल चुकी है। जब दिल्ली सरकार ने वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर निकाला तब मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री इसके पक्ष में नहीं थे। लेकिन विशेषज्ञों ने लगातार मुख्यमंत्री को यह सलाह दी कि मध्यप्रदेश को भी बाकी राज्यों के साथ मिलकर वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करना चाहिए। जिसके बाद आखिरकार सीएम शिवराज ने विशेषज्ञों की राय पर अमल करने का फैसला किया। अब स्वास्थ्य विभाग को जल्द से जल्द ग्लोबल टेंडर जारी करने के निर्देश दे दिए गए हैं। 

यह भी पढ़ें : मॉडर्ना दवा कंपनी ने वैक्सीन देने से पंजाब सरकार को किया इनकार कहा, हम भारत सरकार से करेंगे करार

हालांकि शिवराज सरकार कोवैक्सीन और कोविशील्ड के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करेगी। क्योंकि फाइजर और मॉडर्ना जैसी वैक्सीन निर्माता कंपनियां पहले ही अपना रुख स्पष्ट कर चुकी हैं कि वे केवल केंद्र सरकार के साथ ही वैक्सीन की डील करेंगी। पंजाब और दिल्ली सरकार को मॉडर्ना पहले ही वैक्सीन देने से इनकार कर चुकी हैं। महाराष्ट्र में भी वैक्सीन की पांच करोड़ डोज के लिए टेंडर निकाला है। लेकिन रूसी वैक्सीन निर्माता कंपनी स्पूतनिक की ओर से अब तक कोई जवाब नहीं आया है। वहीं मॉडर्ना, फाइजर जैसी कंपनियों से महाराष्ट्र सरकार संपर्क साधने की कोशिश कर रही है।