नवी मुंबई के एक स्कूल में 16 छात्र कोरोना संक्रमित, एक छात्रा के पिता हाल ही में विदेश से लौटे थे

कतर से लौटे पिता की कोविड रिपोर्ट नेगेटिव, बच्चे में मिला कोरोना संक्रमण, 8वीं से 11 क्लास तक के 16 बच्चे मिले संक्रमित, स्थानीय कोविड केयर सेंटर में किया भर्ती, 3 दिन पहले ही खुले थे स्कूल

Updated: Dec 18, 2021, 02:55 PM IST

नवी मुंबई के एक स्कूल में 16 छात्र कोरोना संक्रमित, एक छात्रा के पिता हाल ही में विदेश से लौटे थे
Photo Courtesy: twitter

मुंबई। महाराष्ट्र में एक बार फिर कोरोना मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। अब बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे महामारी की चपेट में आ रहे हैं। नवी मुंबई के घनसोली स्कूल में 16 छात्र कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इस खबर के बाद स्कूल में हड़कंप मच गया है। एक कोरोना संक्रमित बच्चे के संपर्क में आए छात्रों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया जा रहा है कि एक बच्चे के पिता हाल ही में कतर से लौटे थे। जिसके बाद घर वालों का कोरोना टेस्ट करवाया गया। इस टेस्ट में पिता को नेगेटिव मिले, जबकि उनका बच्चा संक्रमित मिला। रिपोर्ट आने के पहले तक बच्चा रोज स्कूल आता था। पॉजिटिव छात्र के संपर्क में आए 16 बच्चों में कोरोना की पुष्टि हुई है।

अब सभी संक्रमित बच्चों और उनके परिवारों के साथ स्कूल स्टाफ और टीचर्स को कोरोना टेस्ट करवाने को कहा गया है। सभी कोरोना संक्रमित छात्रों को स्थानीय कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया है। खबर है कि स्कूल जिला प्रशासन की परमीशन के बाद ही खुला था। नियमानुसार स्कूल में केवल 50 प्रतिशत बच्चों को ही बुलाया जा रहा था। शुक्रवार को करीब 16 बच्चों को बुखार, सर्दी, खांसी समेत कोरोना के लक्षण नजर आए, जिसके बाद उनकी कोरोना टेस्टिंग करवाई गई। जिसमें 16 छात्रों में कोरोना की पुष्टि हुई है। घटना के बाद स्कूल प्रबंधन और संक्रमित छात्रों के परिजन दहशत में है।

और पढ़ें: महिला पत्रकारों से हार्वर्ड में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी, विवि में शिकायत के बाद भी एक्शन नहीं लेने का आरोप

ये संक्रमित छात्र आठवीं से लेकर 11वीं क्लास तक के हैं। घनसोली के गोठीवली इलाका निवासी एक छात्र के पिता हाल ही में विदेश से लौटे थे, पिता की रिपोर्ट निगेटिव मिली, लेकिन उनका 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले बेटा संक्रमित मिला है।कोरोना संक्रमित होने पर भी छात्र रोज स्कूल आता था और अपने स्कूल के बच्चों के साथ मिलता जुलता था। एहतियात के तौर पर स्कूल को सैनेटाइज करवाया जा रहा है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच नए वैरिएंट के मरीजों की संख्या 113 हो गई है।