देश का तिरंगा PM मोदी के लिए सिर्फ एक गमछा है, पार्टी दफ्तर में तिरंगे को BJP के झंडे से नीचे रखा: कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता डॉ अजय कुमार ने पीएम मोदी पर आरोप लगाया कि उन्होंने योग दिवस के दिनने तिरंगे को गमछे की तरह इस्तेमाल किया, अजय कुमार ने कहा कि अगर पीएम को लगता है कि उन्होंने गलत किया है तो उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए

Updated: Jul 11, 2022, 03:45 PM IST

देश का तिरंगा PM मोदी के लिए सिर्फ एक गमछा है, पार्टी दफ्तर में तिरंगे को BJP के झंडे से नीचे रखा: कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस के प्रवक्ता डॉ अजय कुमार ने तिरंगे के अपमान को लेकर केंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि, 'PM मोदी ने योग दिवस के दिन तिरंगे को गमछे की तरह इस्तेमाल किया। अजय कुमार ने कहा कि अगर पीएम को लगता है कि उन्होंने गलत किया है तो उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए।

कांग्रेस प्रवक्ता के मुताबिक मोदी सरकार राष्ट्रीय ध्वज अधिनियम में संशोधन की तैयारी में है, जिसके तहत तिरंगा पॉलिएस्टर का भी बन सकेगा। इससे घर घर तिरंगा अभियान घर घर चीन अभियान बन जाएगा, क्योंकि चीन पॉलिएस्टर का सबसे बड़ा निर्माता है और वहां से पॉलिएस्टर का बड़ी मात्रा में आयात होगा और वहां के उद्योगपतियों को इससे फायदा होगा। ये खादी को खत्म करने की कोशिश है। सरकार को संशोधन करने के इस फैसले को वापस लेना चाहिए।

डॉ अजय ने AICC दफ्तर में इस संबंध में प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि, 'BJP द्वारा जिस प्रकार से स्वतंत्रता संग्राम से संबंधित प्रतीकों पर हमला किया जा रहा है, उसमें अब तिरंगा भी शामिल हो गया है। 1942 में, पटना सेक्रेटेरिएट में तिरंगा फहराने की कोशिश में 6 लोगों को अंग्रेजों ने गोली मार दी थी। ये कांग्रेस का इतिहास है। वहीं भाजपा के एक पूर्व मंत्री ने कहा था कि 20 सालों में हम तिरंगे को बदल देंगे। हमारे कानून में यह स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि तिरंगा बनाने के लिए सिर्फ खादी का ही उपयोग किया जाना चाहिए। लेकिन, पीएम मोदी ने कहा है कि अब इसे बनाने के लिए पॉलिस्टर का उपयोग भी किया जा सकता है। 

उन्होंने आगे कहा कि, 'हमें ऐसा लगता है कि सुबह जागने के बाद पीएम मोदी और अमित शाह इसी पर विचार करते हैं कि आज देश का क्या बेचना है? ऐसे में बेचते-बेचते जब पूरे देश की संपत्ति बिकने की कगार पर है तो इनकी नजर अब हमारे झंडे पर पड़ गई। अब हमारे तिरंगे को बनाने के लिए पॉलिस्टर को इम्पोर्ट किया जाएगा, जो सीधा चीन से आएगी। जैसे 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' पूरी तरह चीन से बनकर आई है, अब हमारे तिरंगे के लिए कपड़ा भी चीन से आएगा। हमेशा तिरंगे को अपमानित करने वाले लोग, अब खादी उद्योग को भी खत्म करने की साजिश कर रहे हैं। हमारे देश में खादी उद्योग से संबंधित करीब 1.5 करोड़ लोग कार्य कर रहे हैं, जिन पर पीएम मोदी ने सीधा हमला किया है।'

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि, 'जब हमारे यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने 26 जनवरी 2001 को RSS मुख्यालय में तिरंगा फहराने की कोशिश की तो उनके ऊपर केस कर दिया गया। फिर से बता दूं- उन युवाओं की गलती सिर्फ इतनी थी कि उन्होंने RSS मुख्यालय पर तिरंगा फहराने की कोशिश की थी। भाजपा कार्यालय में तिरंगे को भाजपा के झंडे से नीचे रखकर, इन्होंने अपना असली चेहरा दिखा दिया है। एक बात स्पष्ट कर दी जाए, यह कोई गलती नहीं है। यह उनकी मानसिकता है। उन्हें देश के तिरंगे या आजादी से कोई मतलब ही नहीं है। आज हमें यह स्पष्ट हो गया है कि देश का तिरंगा, मोदी जी के लिए सिर्फ एक 'गमछा' है। खादी मोदी जी के लिए कोई मायने नहीं रखता है।'