प्रयागराज में निषाद समुदाय के बीच पहुँचीं प्रियंका गांधी, कहा, पुलिस ज्यादती के ख़िलाफ़ उठाएँगे आवाज़

प्रियंका गांधी ने कहा, बीजेपी के राज में नियम-कायदे ग़रीबों की भलाई के लिए नहीं, बल्कि उद्योगपतियों के फ़ायदे लिए बनाए जा रहे हैं, जिससे ग़रीबों का नुक़सान हो रहा है, कांग्रेस हमेशा ग़रीबों के साथ खड़ी है

Updated: Feb 21, 2021, 04:01 PM IST

प्रयागराज में निषाद समुदाय के बीच पहुँचीं प्रियंका गांधी, कहा, पुलिस ज्यादती के ख़िलाफ़ उठाएँगे आवाज़
Photo Courtesy : Twitter

प्रयागराज। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी प्रयागराज के दौरे पर हैं। प्रियंका प्रयागराज के बसवार गांव पहुंचीं और निषाद समुदाय के लोगों से बात कर उनकी पीड़ा सुनी। इस दौरान प्रियंका काफी देर तक जमीन पर बैठकर मल्लाह समुदाय की महिलाओं से बात करती रहीं और अंत में उन्होंने आश्ववासन दिया कि वह उनकी लड़ाई लड़ेंगी।

दरअसल, 4 फरवरी को यहां पुलिस-प्रशासन ने निषाद समुदाय की दर्जनों नावें जेसीबी से तोड़वा दी थीं। विरोध करने पर बालू उन पर लाठी चार्ज भी किया गया था। इसमें कई लोग बुरी तरह से घायल हो गए थे। इस पुलिस ज्यादती के खिलाफ विभिन्न संगठनों ने आवाज उठाई। प्रियंका गांधी 11 फरवरी को जब मौनी अमावस्या के मौके पर संगम में डुबकी लगाने पहुंची थीं, तब नाविकों ने उन्हें ये आपबीती बताई थी। इसी सिलसिले में आज प्रियंका पीड़ित परिवारों से मिलने प्रयागराज पहुंचीं।

 

प्रयागराज में पुलिस द्वारा प्रताड़ित किए गए मछुआरों के बीच जब प्रियंका गांधी पहुंची तो उनका जबरदस्त स्वागत किया गया। इस दौरान प्रियंका ने कहा, 'एनजीटी के नियम निषाद समुदाय के लोगों के हित में नहीं हैं। यह नियम नदी की भलाई के लिए नहीं, बल्कि उद्योगपतियों के फायदे के लिए लागू किए गए हैं। ये इसीलिए लागू किए जा रहे हैं ताकि उद्योगपतियों को भलाई हो। नियमों को इस तरह से बनाया गया है कि गरीबों को नुकसान हो रहा है। 

प्रियंका ने इस दौरान उत्तर प्रदेश की आदित्यनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, 'सरकार आपके लिए काम नहीं कर रही है। किसानों का भला नहीं हो रहा है। ये सरकार उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का काम कर रही है, लेकिन हम आपकी लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने गांव के लोगों को हिम्मत देते हुए कहा कि अगर आपको कोई प्रताड़ित करता है तो कांग्रेस के कार्यकर्ता आपकी मदद करेंगे। 

पुलिस की इस कार्रवाई पर कांग्रेस ने भी निशाना साधा है। कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से प्रियंका का मल्लाह समुदाय की महिलाओं के साथ बात करते हुए वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'जिन निषादराज केवट ने भगवान राम को गंगा पार करवाई थी, उन्हीं के वंशजों पर, उनकी नाव पर प्रहार करके भाजपा ने अहंकार दिखाया है।' कांग्रेस ने आगे लिखा, 'अपना दर्द बयां करती इन महिलाओं की आवाज में गूंजते ये मात्र शब्द नहीं हैं, बल्कि भाजपाई क्रूरता की हकीकत है। निषाद समुदाय को अधिकार मिलना चाहिए। हर क्रूरता के खिलाफ हम लड़ेंगे और पुरजोर तरीके से लड़ेंगे।'