Omicron के कारण जनवरी में आएगी कोरोना की तीसरी लहर, फरवरी में पीक पर होगा कोरोना

वरिष्ठ वैज्ञानिक मणींद्र अग्रवाल ने कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर यह दावा किया है, अग्रवाल के मुताबिक जनवरी के अंतिम हफ्ते में कोरोना की तीसरी लहर भारत में प्रवेश कर जाएगी

Publish: Dec 05, 2021, 07:31 AM IST

Omicron के कारण जनवरी में आएगी कोरोना की तीसरी लहर, फरवरी में पीक पर होगा कोरोना

नई दिल्ली। Omicron के लगातार बढ़ते खतरे के बीच भारत में कोरोना की तीसरी लहर का दावा शुरू हो गया है। भारत में जनवरी में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। जिसकी वजह कोरोना का नया वेरिएंट बनेगा। यह दावा वरिष्ठ वैज्ञानिक मणींद्र अग्रवाल ने किया है। 

वरिष्ठ वैज्ञानिक के मुताबिक भारत में जनवरी के अंतिम हफ्ते में कोरोना की तीसरी लहर प्रवेश कर जाएगी। फरवरी महीने में भारत में कोरोना अपने चरम पर पहुंच जाएगा। अग्रवाल के मुताबिक उस दौरान भारत में रोजाना एक लाख से अधिक मामले सामने आएंगे। 

मणींद्र अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना का नया वेरिएंट ही भारत में तीसरी लहर का कारण बनेगा। हालांकि उन्होंने दावा किया कि यह लहर दूसरे लहर के मुकाबले कम घाट होगी। साथ ही बच्चों पर इस लहर का असर नहीं पड़ेगा। लेकिन मणींद्र अग्रवाल ने तीसरी लहर की आशंका के बीच तमाम सावधानी बरतने की बात कही है। 

भारत में अब तक omicron वेरिएंट के कुल चार मामलों की पुष्टि हो चुकी है। बेंगलुरु के बाद दक्षिण अफ्रीका से मुंबई लौटा शख्स भी नए वेरिएंट से संक्रमित पाए गया है। वहीं हाल ही में जिम्बाब्वे से गुजरात लौटे 76 वर्षीय बुजुर्ग में भी नए वेरिएंट की पुष्टि हो चुकी है। 

कोरोना का नया वेरिएंट अब तक कुल 38 देशों में फैल चुका है। कई स्वास्थ्य विशेषज्ञ इस वेरिएंट को अब तक का कोरोना का सबसे खतरनाक स्वरूप करार दे रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक इस वेरिएंट से संक्रमित होने वाला व्यक्ति अकेले 15 से 20 अन्य व्यक्तियों को संक्रमित कर सकता है।