मेरी दादी ने आपसे एक रिश्ता जोड़ा था, उस रिश्ते को आज मैं निभा रही हूं: हिमाचल के शिलाई में प्रियंका का भावुक संबोधन

हिमाचल विधानसभा चुनाव प्रचार के आखिरी दिन आज प्रियंका गांधी ने सिरमौर जिले के शिलाई में पार्टी प्रत्याशी हर्षवर्धन चौहान के पक्ष में चुनाव प्रचार किया।

Updated: Nov 10, 2022, 06:22 PM IST

मेरी दादी ने आपसे एक रिश्ता जोड़ा था, उस रिश्ते को आज मैं निभा रही हूं: हिमाचल के शिलाई में प्रियंका का भावुक संबोधन

सिरमौर। हिमाचल विधानसभा चुनाव का प्रचार आज थम गया। चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सिरमौर जिले के शिलाई में पार्टी प्रत्याशी हर्षवर्धन चौहान के पक्ष में चुनाव प्रचार किया। प्रियंका गांधी की इस रैली में लाखों लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। इस दौरान प्रियंका अपनी दादी इंदिरा गांधी को याद कर भावुक दिखीं।

रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि, 'मैं आप सभी के चेहरे पर देख सकती हूं कि आप मुझसे प्रेम करते हैं। लेकिन आप मुझसे प्रेम क्यों करते हैं? क्योंकि मेरी दादी जी ने आपसे एक रिश्ता जोड़ा था, उस रिश्ते को आज मैं निभा रही हूं। मेरी दादी जी का इस प्रदेश और आप सभी के साथ प्रेम, सेवा और समर्पण का रिश्ता था। मैं भी यहीं की निवासी हूं और मैं भी यहीं रिटायर होऊंगी।'

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि, 'हिमाचल में लोग क्या चुनने जा रहे हैं? दो राजनीतिक दल चुनने जा रहे हैं या अपना भविष्य? आज मैं मंच पर खड़ी हूं। कल वह भी आए होंगे। मेरी दादी इंदिरा गांधी के समय में अलग राजनीति थी, आज की राजनीति अलग है। आज पैसों का बोलबाला है। आज दूसरे नेता जो बोलते हैं, वह पांच साल नहीं करते। मेरा घर भी हिमाचल में है, हिमाचली हूं…पेंशन मिले न मिले, मेरी रिटायरमेंट तो यहीं से होनी है।'

संबोधन शुरू करने से पहले प्रियंका गांधी ने भगवान परशुराम, मां रेणुकाजी व मां भंगयाणी को नमन किया। उन्होंने कहा कि वह आश्वस्त हैं कि यहां से आज असत्य के खिलाफ सत्य की आवाज उठेगी। मां भंगयाणी साम, दाम, दंड, भेद को पराजित करने वाली देवी हैं। सरहद पर जवान देश की रक्षा में लगे हैं। विकट परिस्थितियों का सामना करते हैं। यहां सरकार चुनते हुए हमारा दायित्व बनता है कि सही व्यक्ति को वोट दें। पहले असत्य के खिलाफ सत्य की राजनीति होती थी, लेकिन अब राजनीति में साम, दाम, दंड, भेद सबका इस्तेमाल होता है।

इससे पूर्व प्रियंका गांधी को खुली जीप में मंच तक पहुंचाया गया। वह जनसैलाब का अभिनंदन स्वीकार करते हुए आगे बढ़ीं। मंच पर प्रियंका गांधी को लोईया व डांगरा भेंट किया गया। साथ ही शिलाई से कांग्रेस के प्रत्याशी हर्षवर्धन चौहान की पत्नी ने प्रियंका गांधी को ढाटू पहनाकर पहाड़ी संस्कृति का परिचय दिया।