ED के सामने कल राहुल गांधी की पेशी, शक्ति प्रदर्शन की तैयारी में कांग्रेस, ED दफ्तर के बाहर पार्टी नेता करेंगे सत्याग्रह

कांग्रेस ने राहुल गांधी की ईडी के सामने पेशी पर बड़े स्तर पर शक्ति प्रदर्शन करने की तैयारी की है, इस मौके पर पर पार्टी ईडी के दफ्तरों तक सत्याग्रह मार्च करने का फैसला किया है, दिल्ली में पार्टी के सांसद और सीडब्ल्यूसी मेंबर्स जांच एजेंसी के मुख्यालय तक मार्च करेंगे

Updated: Jun 12, 2022, 11:54 AM IST

ED के सामने कल राहुल गांधी की पेशी, शक्ति प्रदर्शन की तैयारी में कांग्रेस, ED दफ्तर के बाहर पार्टी नेता करेंगे सत्याग्रह

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने पेशी को विपक्ष कल प्रमुख मुद्दा बनाना चाहती है। विपक्षी दल कांग्रेस ने फैसला किया है कि सोमवार को जब राहुल गांधी ईडी के सामने पेश होने जाएंगे, उसी समय पार्टी कार्यकर्ता देशभर में ईडी दफ्तरों के बाहर विरोध प्रदर्शन करेंगे। पार्टी ने इसे सत्याग्रह नाम दिया है।

कांग्रेस नेता मनिकम टैगोर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा विपक्ष की आवाज को चुप कराने के लिए केंद्रीय जांच एजेंसियों के दुरुपयोग के विरोध में पार्टी कार्यकर्ता देश भर में जांच एजेंसी के 25 कार्यालयों के बाहर विरोध प्रदर्शन करेंगे। टैगोर ने केंद्र की मोदी सरकार पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को फर्जी मामले में फंसाने की साजिश रचने का आरोप लगाय।

उन्होंने कहा कि ये कार्रवाई प्रतिशोध की राजनीति का हिस्सा है। देश भर में विपक्षी दलों के नेताओं पर छापे मारे जा रहे हैं और उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। कांग्रेस राजनीतिक प्रतिशोध के साथ सोनिया गांधी और राहुल गांधी के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सरकार के खिलाफ विरोध करेगी।

बताया जा रहा है कि राहुल गांधी भी 13 जून को पैदल मार्च करते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर तक जा सकते हैं। पार्टी ने कहा है कि दिल्ली में पार्टी के सांसद और कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) के सदस्य जांच एजेंसी के मुख्यालय तक मार्च करेंगे। इसके साथ ही देश भर में ईडी कार्यालयों के बाहर भी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता सत्याग्रह करेंगे।

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस राहुल गांधी की पेशी के दौरान दिल्ली में बड़े स्तर पर शक्ति प्रदर्शन की तैयारी कर रही है और इसी क्रम में पार्टी के सभी सांसदों और वरिष्ठ नेताओं को 13 जून को दिल्ली में मौजूद रहने के लिए कहा गया है। भारतीय युवा कांग्रेस, एनएसयूआई और पार्टी से जुड़े अन्य संगठनों के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता भी राहुल गांधी के समर्थन में मौजूद रहेंगे। ईडी ने ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़े कथित धनशोधन मामले में सोनिया गांधी को आठ जून को पेश होने के लिए नोटिस दिया है।