जब सरकार पांच साल सकती है, तो आंदोलन भी पांच साल तक चल सकता है: राकेश टिकैत

राकेश टिकैत ने कहा कि किसान आंदोलन छोड़कर कहीं नहीं जाएगा, जब तक कानूनों को रद्द करने और एमएसपी की गारंटी की हमारी मांगों को नहीं माना जाएगा, तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा

Updated: Nov 05, 2021, 06:09 PM IST

जब सरकार पांच साल सकती है, तो आंदोलन भी पांच साल तक चल सकता है: राकेश टिकैत

नई दिल्ली। किसान आंदोलन को अब एक साल पूरा होने को आ गया है। लेकिन किसानों और सरकारों के बीच तकरार खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। कानूनों को रद्द करने को लेकर जारी आंदोलन के बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने भी बड़ा एलान कर दिया है। राकेश टिकैत ने साफ शब्दों में एक बार फिर यह स्पष्ट कर दिया है कि जब तक सरकार किसानों की मांगें नहीं मान लेती, तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। 

किसान नेता राकेश टिकैत का एक बयान मीडिया में काफी सुर्खियां बटोर रहा है जिसमें उन्होंने कहा है कि जब सरकारें पांच साल चल सकती हैं तब आंदोलन भी पांच साल चल सकता है। राकेश टिकैत ने कहा कि देश का किसान आंदोलन छोड़कर कहीं नहीं जाएगा। किसान नेता ने कहा कि अगर सरकारें पांच साल तक अपनी सरकार चला सकती हैं तो ये आंदोलन भी जनता का चुना हुआ आंदोलन है और ये आंदोलन तब तक चलेगा जब तक भारत सरकार एमएसपी गारंटी कानून नहीं बनाएगी और ये तीन कानून वापस नहीं लेगी। 

गुरुवार को दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलनरत किसानों ने भी दीपावली का त्यौहार मनाया। गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने शहीद सैनिकों के लिए 'दो दिए शहीदों के लिए' कार्यक्रम का आयोजन किया।

दिल्ली की सीमाओं पर पिछले एक साल से आंदोलनकारी किसान तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने और एमएसपी की गारंटी को लेकर कानून बनाने की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर देश के कई हिस्सों में महापंचायत भी आयोजित किए जा चुके हैं। भाजपा शासित राज्यों में किसानों के साथ हिंसक घटनाओं को भी अंजाम दिया गया है। लेकिन इसके बाद भी किसानों का हौसला डगमगाया नहीं है।