आम जनता पर महंगाई की मार, और 25 रुपये बढ़े रसोई गैस के दाम

ऑयल कंपनियों ने बिना सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर के दाम बढ़ाए, 14.2 किलो का घरेलू गैस सिलेंडर हुआ 25 रुपये महंगा, दिसंबर में 100 रुपये बढ़े थे दाम

Updated: Feb 04, 2021, 02:05 PM IST

आम जनता पर महंगाई की मार, और 25 रुपये बढ़े रसोई गैस के दाम
Photo Courtesy: UP Varta News

दिल्ली। पेट्रोल डीजल के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी के साथ-साथ सरकार रसोई गैस के दाम भी लगातार बढ़ा रही है। बिना सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर के दाम 25 रुपये और बढ़ गए हैं। बढ़ी हुई कीमतें आज से लागू हो गई हैं। इससे पहले दिसंबर में भी रसोई गैस सिलेंडर के दामों में 100 रुपये की भारी बढ़ोतरी की गई थी।

आज से बढ़े हुए दाम लागू होने के बाद दिल्ली में 14.2 किलोग्राम वाला गैस सिलेंडर 719 रुपए में मिलेगा। यही सिलेंडर कोलकाता में 745.50 रुपए, मुंबई में 719 रुपए और चेन्नई में 735 रुपए का मिलेगा। तेल कंपनियों ने 19 किलो वाले व्यावसायिक गैस सिलेंडर का दाम 6 रुपये सस्ता कर दिया है। अब दिल्ली में 19 किलो वाला कमर्शियल गैस सिलेंडर 1,533 रुपये में मिलेगा। 

देश में LPG गैस सिलेंडर के लिए उपभोक्ताओं को पहले पूरा दाम चुकाना होता है। बाद में सब्सिडी की रकम पात्र उपभोक्ताओं के खाते में भेजी जाती है। सरकार केवल 12 सिलेंडरों पर सब्सिडी देती है। उसके बाद पूरा दाम चुकाना पड़ता है। रसोई गैस के दाम में यह बढ़ोतरी इसलिए भी बेहद चिंताजनक है, क्योंकि भारी मंदी की वजह से लोगों की आय में काफी कमी आई है। लाखों लोग बेरोज़गार भी हुए हैं। ऐसे में पेट्रोल-डीज़ल और रसोई गैस के दामों में बार-बार की जाने वाली बढ़ोतरी का न सिर्फ लोगों की जेब पर बल्कि उनकी क्रय क्षमता में आने वाली गिरावट के चलते पूरी अर्थव्यवस्था पर काफी बुरा असर पड़ता है। 

दिसंबर में रसोई गैस सिलेंडर के दामों में सौ रुपये की भारी बढ़ोतरी किए जाने पर विपक्ष ने कड़ा विरोध किया था। लेकिन फरवरी शुरू होते ही एक बार फिर से दाम बढ़ाए जाने से साफ है कि सरकार को न तो लोगों पर बढ़ते महंगाई के बोझ की कोई परवाह है और न ही विपक्षी दलों के विरोध की।