रतलाम के दंपति ने घर में छापे नक़ली नोट, गुजरात के भुज में लाखों की ख़रीदारी करते पकड़े गए

रतलाम के दंपति के घर से नकली नोट छापने की मशीनें और सामान जब्त, लाखों के नक़ली नोट छापकर गुजरात के भुज में कर रहे थे ख़रीदारी

Updated: Mar 19, 2021, 12:57 PM IST

रतलाम के दंपति ने घर में छापे नक़ली नोट, गुजरात के भुज में लाखों की ख़रीदारी करते पकड़े गए
Photo Courtesy: Times of India

रतलाम। शहर का एक दंपति गुजरात के भुज में 12 लाख रुपए से ज्यादा के नकली नोटों के साथ गिरफ्तार हुआ है। इनकी पहचान राहुल कसेरा और मेघा कसेरा के रुप में हुई है है। इस दंपति ने भुज के बाजार से महंगे मोबाइल, कपड़ों, जूतों समेत लाखों की शॉपिंग की थी। एक दुकानदार को इनपर शक हुआ तो उसने नोटों की जांच करवाई, जिसमें नोट नकली पाए घए। दुकानदार के शिकायत करने पर पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इनकी तलाश शुरू कर दी, जिसके बाद दोनों भुज रेलवे स्टेशन पर पकड़े गए। 

भुज पुलिस ने 9 पन्नों की FIR दर्ज की

भुज पुलिस को आरोपियों के पास मध्य प्रदेश के नंबर वाली कार, एक श्रमजीवी पत्रकार का आईकार्ड औऱ 12 लाख 10 हजार 500 रुपए के नकली नोट मिले हैं। आरोपी दंपति करीब चार दिन से भुज में थे और वहां सोना खरीदने की तैयारी कर रहे थे। आरोपी दंपति के पास से 25 हजार रुपए के असली नोट भी बरामद हुए हैं। भुज पुलिस ने उनके खिलाफ 9 पन्नों की FIR दर्ज की है।

भुज में इनके पकड़े जाने के बारे में पुलिस ने बताया कि आरोपी दंपति गांधी नगर, एयरपोर्ट रोड और कुछ अन्य जगहों से सोना खरीदने की फिराक में थे। यह इलाका ठगों द्वारा सस्ता सोना बेचे जाने के लिए कुख्यात है। तीन बार वहां जाने के बाद दोनों सोने का सौदा करके आए थे। सौदा 30 हजार रुपए प्रति तोले की दर से तय हुआ था, लेकिन किसी कारण से सोना नहीं मिल पाया। जब दोनों चौथी बार सोना खरीदने गए तो साथ में नकली नोट लेकर गए। दोनों ने चालाकी से वहां के स्थानीय बाजार से नकली नोटों से शॉपिंग की।

भुज में महंगा सामान बेचने के बाद एक व्यापारी को पता चला कि उसे नकली नोट दिए गए हैं। जिसके बाद उसने सीसीटीवी फुटेज लेकर भुज सिटी पुलिस में शिकायत की। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से दोनों की तलाश की। जिसके बाद दोनों को रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया। रतलाम पुलिस आऱोपी दंपति को शनिवार को भोपाल लाने की तैयारी में हैं।

फर्जी आईकार्ड के जरिए धोखा देने की कोशिश

भुज पुलिस ने जब दोनों से पूछताछ की दोनों ने अपना नाम रवि गुप्ता और विभा गुप्ता बताया। उनके पास रवि गुप्ता ने नाम का एक श्रमजीवी पत्रकार का आईकार्ड भी था। बाद में सख्ती करने पर दोनों ने अपने अलसी नाम बताए। अब दोनों जगहों की पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

रतलाम पुलिस ने घर पर छापा मारा, नोट छापने का सामान मिला

गुजरात के भुज हुई में इस कार्रवाई के बाद रतलाम पुलिस भी सक्रिय हुई। रतलाम पुलिस ने राहुल और मेघा के कसारा बाजार स्थित मकान पर छापा मारा तो वहां दो हजार और पांच सौ रुपए के नोट छापने के प्रिंटर, पेपर, नोट गिनने और नोटों पर नंबर डालने की मशीनों समेत बड़ी मात्रा में संदिग्ध सामान मिला। रतलाम पुलिस ने भी दोनों के खिलाफ अलग से केस दर्ज कर लिया है। राहुल रतलाम के कसारा बाजार के जाने माने बर्तन कारोबारी गोपाल कसेरा का बेटा है। रतलाम में इनके पिता का बर्तनों का पुश्तैनी कारोबार है। पिता के कारोबार में राहुल भी हाथ बंटाता था।