पंजाब मसले पर 10 जुलाई तक फैसला ले सकती हैं सोनिया गांधी, राहुल से मुलाकात के बाद बोले हरीश रावत

हरीश रावत ने बताया कि कांग्रेस पैनल ने अपनी रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष को सौंप दी है, जिस पर सोनिया गांधी 8 से 10 जुलाई तक अपना निर्णय ले लेंगी

Updated: Jun 23, 2021, 04:35 PM IST

पंजाब मसले पर 10 जुलाई तक फैसला ले सकती हैं सोनिया गांधी, राहुल से मुलाकात के बाद बोले हरीश रावत
Photo Courtesy : India Today

नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान को सुलझाने के लिए गठित की गई समिति के हिस्सा हरीश रावत ने कहा है कि इस मसले पर 10 जुलाई तक निर्णय आ जाएगा। हरीश रावत ने मीडिया को बताया कि कांग्रेस पैनल ने अपनी रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष को सौंप दी है। जिस पर सोनिया गांधी 8 से 10 जुलाई तक निर्णय ले लेंगी। 

हरीश रावत ने यह बात राहुल गांधी से मुलाक़ात करने के बाद कही। रावत ने कहा कि हमने नवजोत सिंह सिद्धू के मुद्दों का संज्ञान लिया है, बाकी मामला संगठन से संबंधित है। संगठनात्मक राजनीतिक सवालों के लिए समिति ने रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष को दे दी है। 8-10 जुलाई तक कांग्रेस अध्यक्ष का निर्णय आ जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने सिद्धू के दिल्ली आने की बात भी कही।  

यह भी पढ़ें : अपनी नई पार्टी बना सकते हैं कैप्टन अमरिंदर सिंह, बार बार दिल्ली में हाजिरी देने से नाराज़ चल रहे हैं कैप्टन  

वहीं दूसरी तरफ कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से बिना मिले ही आज पंजाब के लिए रवाना हो गए। अमरिंदर सिंह पिछले तीन दिनों से दिल्ली में ही थे। अमरिंदर सिंह के दिल्ली आने से पहले ये कयास लगाए जा रहे थे कि अमरिंदर सिंह सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। 

अब कांग्रेस पैनल द्वारा रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्णय का इंतज़ार है। इससे पहले मीडिया रिपोर्ट्स में इस बात का दावा किया जा रहा था कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी चाहते हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू और अमरिंदर सिंह के इस विवाद में बीच का रास्ता निकाला जाना चाहिए। हालांकि यह बीच क्या रास्ता क्या होगा? इस पर असमंजस बरकरार है।