एक विवाह ऐसा भी, राजस्थान के डूंगरपुर के थाने में हुई महिला आरक्षक की हल्दी सेरेमनी, थाने में गूंजे मंगल गीत

राजस्थान के डूंगरपुर के एक थाने में शादी की खुशियों ने दस्तक दी, साथी पुलिसकर्मी बने घरवाले, थाने में निभाई गई महिला पुलिसकर्मी की हल्दी की रस्म, कोरोना ड्यूटी की वजह से नहीं मिली थी छुट्टी, 30 अप्रैल को गांव में होगी शादी

Updated: Apr 24, 2021, 08:10 PM IST

एक विवाह ऐसा भी, राजस्थान के डूंगरपुर के थाने में हुई महिला आरक्षक की हल्दी सेरेमनी, थाने में गूंजे मंगल गीत
Photo courtesy: twitter

जयपुर। राजस्थान के डूंगरपुर का एक थाना रातों रात फेमस हो गया है। और हो भी क्यों ना यहां काम ही ऐसा हुआ है। थाने में शादी की खुशियों ने दस्तक दी है। आशा नाम की एक पुलिस आऱक्षक की हल्दी की शादी 30 अप्रैल को है, शनिवार को उसकी हल्दी की रस्म होनी थी, लेकिन उन्हें कोरोना ड्यूटी की वजह से छुट्टी नहीं मिली। जिसके बाद थाने की महिला साथियों ने उनकी हल्दी की रस्म थाने में ही करने का फैसला किया।

इस दौरान सभी पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों ने उन्हें हल्दी लगाई और मंगल गीत भी गाए। इस कई दौरान महिला पुलिसकर्मी पीले ड्रेस में नजर आईं। आशा की हल्दी की रस्म पूरी की गई। हल्दी की हर रस्म को निभाया गया। 30 अप्रैल को शादी होना है, लंबी छुट्टी नहीं मिलने की वजह से तय दिन पर ही थाने में इस अनोखी हल्दी की रस्म निभाई गई,। हल्दी की रस्म के बाद आशा के साथ लोगों ने डांस किया और शादी की खुशियां मनाई। अब यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं।

देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से सभी फ्रंट लाइन वर्कर्स, डॉक्टर, पुलिसकर्मी कई दिनों तक घरों से दूर हैं। उनकी छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं, लोगों को हेड क्वार्टर छोड़ने की परमीशन नहीं है।

 ऐसे में उन्हें अपने घरों से दूर रहना पड़ रहा है। आशा भी उन्हीं में से एक है, उनका कहना है कि वे अपनी इस अनोखी हल्दी की रस्म से काफी खुश है, उनके साथियों ने घर वालों की कमी महसूस नहीं होने दी। अब वे 30 तारीख को शादी के लिए अपने गांव पहुंच जाएंगी।