छत्तीसगढ़ CRPF कैंप में खूनी संघर्ष, एक ASI की मौत, हेड कॉन्स्टेबल गंभीर रुप से घायल

हेड कॉन्स्टेबल ने अपने ही CRPF कैंप में तैनात ASI पर दागी गोलियां, मौके पर ही ASI ने तोड़ा दम, आरोपी ने सर्विस रिवॉल्वर से आत्महत्या की कोशिश की, अस्पताल में भर्ती

Publish: Dec 26, 2021, 03:38 PM IST

छत्तीसगढ़ CRPF कैंप में खूनी संघर्ष, एक ASI की मौत, हेड कॉन्स्टेबल गंभीर रुप से घायल
Photo Courtesy: channel India

रायपुर। छत्तीसगढ़ के CRPF कैंप में जवानों में खूनी संघर्ष का मामला सामने आया है। एक जवान ने ASI की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं इसके बाद उसने उसी सर्विस राइफल से खुद पर भी फायरिंग कर ली। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया है। घायल जवान को गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती किया गया है।

 दरसअसल छत्तीसगढ़ तेलंगाना बार्डर पर स्थित CRPF की 39वीं बटालियन के एक हेड कॉन्स्टेबल और उसी कैंप में ही पोस्टेड ASI का विवाद हो गया था। इस दौरान हेड कॉन्स्टेबल ने अपनी सर्विस राइफल से ASI को गोलियां मार दी। जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घायल जवान को वारंगल के अस्पताल में भर्ती किया गया है। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

मृतक जवान की पहचान CRPF के ASI उमेश चंद्र के रूप में हुई है। जबकि हेड कॉन्स्टेबल स्टीफन गंभीर रूप से घायल है। यह घटना रविवार सुबह की है। कैंप में फायरिंग की आवाज सुनते ही बड़ी संख्या में जवान वहां पहुंचे। वे कुछ कर पाते उससे पहले ही ASI उमेशचंद्र की मौके पर मौत हो गई है। जबकि हेड कॉन्स्टेबल स्टीफन गंभीर रूप से घायल था। जवानों ने तत्परता से उसे अस्पताल पहुंचाया। इस घटना की जांच के लिए CRPF की टीम जुट गई है। दोनों जवानों के विवाद की वजह पता लगाई जा रही है। यह पहला मौका नहीं है जब किसी कैंप के जवानों में खूनी संघर्ष हुआ है, बीते 3-4 सालों में हुई विभिन्न घटनाओं में 20 से ज्यादा जवानों ने की मौत हुआ है। सबसे ज्यादा हादसे नारायणपुर, बीजापुर और सुकमा स्थित सुरक्षा बलों के कैंप में देखने को मिले हैं।