बेरोजगार युवाओं को 2500 रुपए मासिक भत्ता देगी छत्तीसगढ़ सरकार, बजट में सीएम भूपेश ने खोला सौगातों का पिटारा

भरोसे का बजट 2023: छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार बेरोजगार युवाओं को दी बड़ी राहत, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय भी हुआ डबल, पेंशन राशि में भी बढ़ोतरी

Updated: Mar 06, 2023, 04:15 PM IST

बेरोजगार युवाओं को 2500 रुपए मासिक भत्ता देगी छत्तीसगढ़ सरकार, बजट में सीएम भूपेश ने खोला सौगातों का पिटारा

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को विधानसभा में अगले वित्त वर्ष के लिए बजट पेश किया। इस बजट में मुख्यमंत्री बघेल ने बेरोजगार युवाओं को बड़ी राहत दी है। सीएम ने प्रदेश के सभी बेरोजगार युवाओं को 2500 रुपए मासिक बेरोजगारी भत्ता देने का ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि 18 साल से लेकर 35 साल तक के सभी बेरोजगार युवाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में बजट पेश करते हुए कहा कि चार साल पहले छत्तीसगढ़ की जनता ने हमें चुना था और हम गर्व से कहना चाहते हैं कि हमने जनता की आकांक्षाओं को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि किसान, महिला और युवा, हर वर्ग का सशक्तिकरण हुआ है। भूपेश बघेल ने कहा कि नरवा गड़वा बदी ने हमारी छत्तीसगढ़ की संस्कृति को बढ़ावा दिया है।

उन्होंने बेरोजगारी भत्ते के प्रावधान का ऐलान करते हुए कहा कि ढाई लाख रुपये से कम की वार्षिक आय वाले परिवार के हर बेरोजगार युवा को हर महीने 2500 रुपये बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। उन्होंने बजट में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मानदेय 6000 से बढ़ाकर 10 हजार और सहायिका का मानदेय 3550 से बढ़ाकर 5000 रुपये महीना किए जाने की भी जानकारी दी।

सीएम बघेल ने बजट में माताओं के उपचार के लिए 2200 रुपये देने का भी ऐलान किया। साथ ही ग्राम पटेलों का मासिक भत्ता भी दो हजार से बढ़ाकर अब तीन हजार रुपये कर दिया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत अनुदान की राशि 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार किए जाने की भी जानकारी दी। निराश्रित पेंशन की राशि 350 से बढ़ाकर 500 रुपए किया जाएगा। बढ़ती मंहगाई के इस दौर में गहलोत सरकार की यह बजट आम लोगों को काफी राहत देने वाला माना जा रहा है।

छत्तीसगढ़ सरकार की प्रमुख घोषणाएं

1) शिक्षित बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने की नई योजना शुरू की जाएगी। 25 सौ रुपए प्रति माह बेरोजगारी भत्ता दो साल तक दिया जाएगा।
2) आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में की गई बढ़ोतरी। 10 हजार रुपए प्रतिमाह दिया जाएगा।
3) मध्यान्ह भोजन के अंतर्गत रसोइयों के मानदेय में की गई वृद्धि, मध्यान भोजन के रसोईए को मिलेंगे 1800।
4) ग्राम पटेल को दिए जा रहे 2 हजार रुपए को 3 हजार करने की घोषणा।
5) राज्य के पर्व त्योहार, आपत्ति विपत्ति में सहयोग करने वाले होम गार्ड के मानदेय में वृद्धि।
6) मुख्यमंत्री कन्या विवाह की सहायता राशि को 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रूपए किया गया।
7) होमगार्ड्स का वेतन 6300-6420 रुपये करने का ऐलान।
8) 101 नवीन स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोले जाएंगे।
9) नवा रायपुर से दुर्ग तक लाइट मेट्रो।
10) मनेन्द्रगढ़, जांजगीर-चांपा और कबीरधाम में नवीन मेडिकल कॉलेज।
11) उद्यानिकी प्रयोगों के प्रदर्शन के लिए नवा रायपुर में सेंटर ऑफ एक्सलेंस की होगी स्थापना।
12) 5 नए जिलों में उप-संचालक कृषि कार्यालय की स्थापना।
13) धमधा में शास बीज प्रसंस्करण केंद्र के लिए प्रावधान।
14) पशु चिकित्सा दतरेंगा रायपुर में राज्य पशु चिकित्सा के लिए प्रावधान।