अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही से 5 मरीजों की मौत, रायपुर के राजधानी सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल में लगी थी आग

राजधानी राजधानी सुपरस्पेशलिटी अस्पताल में आग पर मुख्यमंत्री ने जताया शोक, मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख के मुआवजे का ऐलान, चार मरीजों की दम घुटने से और एक की जलकर हुई है मौत

Updated: Apr 18, 2021, 12:41 AM IST

अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही से 5 मरीजों की मौत, रायपुर के राजधानी सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल में लगी थी आग
Photo courtesy: Bhaskar

रायपुर। राजधानी हॉस्पिटल में आग लगने की घटना में 5 लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि एक मरीज की जलने से और चार मरीजों की दम घुटने से मौत हुई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अस्पताल में आग लगने की घटना पर दुख जताया है। सरकार ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए के मुआवजे का एलान किया है। राजधानी हॉस्पिटल के ICU में शनिवार को आग लगी थी। उस दौरान वहां के ICU में दो दर्जन से ज्यादा कोरोना मरीज भर्ती थे। कई मरीज काफी सीरियस थे। आग लगने की वजह मरीजों का दम घुट गया। कई मरीज कमजोरी की वजह से उठकर भाग भी नहीं सके। इस हादसे में कई मरीज झुलस गए, एक मरीज जिंदा ही जल गया। 

अस्पताल में शॉर्ट सर्किट की घटना से अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही उजागर हुई है। आग लगने के बाद अस्पताल प्रबंधन और जिला प्रशासन ने वहां से शिफ्ट किए मरीजों की कोई सुध नहीं ली। ना तो मरीजों को एंबुलेंस दिया गया ना ही आक्सीजन सिलेंडर। अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजन स्वयं वाहन तलाशते और एंबुलेंस खोजते नजर आए।

और पढ़ें: रायपुर के निजी राजधानी सुपरस्पेशलिटी अस्पताल में लगी आग

कुछ मरीजों को उनके परिजन घर ले गए। वहीं कुछ को दूसरे अस्पतालों में भेजा गया। इतना ही नहीं एक मरीज के परिजन का आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन ने उनके पिता की मौत की खबर छुपाई और पहले पैसों की मांग की।