भिंड के उपार्जन केन्द्रों पर भी पसरा सन्नाटा, मूंग की खरीदी बंद होने के कारण परेशानी में हैं किसान

भिंड ज़िले में तीन केंद्रों पर मूंग की खरीदी की जानी है, लेकिन सप्ताह भर से मूंग की खरीदी बंद है, ऐसे में सबसे ज्यादा परेशानी उन किसानों के सामने है, जिनके फोन पर उपार्जन केन्द्रों पर मूंग की खरीदी का मेसेज आ चुका है

Updated: Jul 27, 2021, 09:00 PM IST

भिंड के उपार्जन केन्द्रों पर भी पसरा सन्नाटा, मूंग की खरीदी बंद होने के कारण परेशानी में हैं किसान
Photo Courtesy: Agrifarming

भिंड। प्रदेश में मूंग उपजाने वाले किसान परेशानियों से घिर गए हैं। मूंग का उपार्जन बंद होने के कारण भिंड के केंद्रों पर सन्नाटा पसर गया। उपार्जन पोर्टल के बंद होने के कारण किसान खरीदी केंद्रों से बेबस ही लौटने पर मजबूर हैं। सबसे बड़ी समस्या उन किसानों के सामने खड़ी हो गई है, जिनके फोन पर मूंग की खरीदी का मेसेज आ चुका है। 

भिंड में 1298 किसानों ने समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी के लिए अपना पंजीयन कराया है। लेकिन उपार्जन पोर्टल 16 जुलाई से बंद है। ज़िले के तीन केंद्रों पर मूंग की खरीदी की जानी है। लेकिन बीते एक हफ्ते से किसानों की उपज की खरीदी रुकी हुई है। ऐसे में वे किसान सबसे अधिक परेशान हैं जिनके फोन पर मेसेज आ चुका है। क्योंकि फोन पर मेसेज आने के बाद किसानों के पास उपार्जन केन्द्रों पर फसल की तुलाई के लिए सात दिन का समय होता है। यही कारण है कि किसान आशंकाओं से घिर गए हैं। 

हालांकि यह समस्या केवल भिंड के मूंग के किसानों की ही नहीं है। भिंड समेत सीहोर और प्रदेश भर के किसान कमोबेश इसी परेशानी से जूझ रहे हैं। सीहोर के नसरुल्लागंज में खरीदी बंद होने के कारण किसानों ने मोर्चा खोल दिया है। नसरुल्लागंज के तहसील कार्यालय के गेट पर किसान अनिश्चितकालीन धरना पर बैठ गए हैं। किसानों का कहना है कि जब तक मूंग की तुलाई दोबारा शुरू नहीं होती तब तक वे धरना पर बैठे रहेंगे। 

यह भी पढ़ें : मूंग खरीदी बंद होने से परेशान हैं सीएम के गृह क्षेत्र के किसान, तहसील कार्यालय पर शुरू किया धरना

इस वर्ष शुरुआत से ही मूंग के किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ा है। होशंगाबाद और हरदा में मूंग की फसल की सिंचाई में देरी होने के कारण काफी किसानों की फसल का नुकसान होने का अनुमान पहले से ही है। फसल तैयार होने के बाद समर्थन मूल्य पर खरीदी में देरी भी हुई। 15 जून से 15 सितंबर तक मूंग की खरीदी की जानी है। लेकिन बीच में अपडेशन का हवाला देकर उपार्जन पोर्टल के बंद किए जाने के कारण किसानों की परेशानी और बढ़ गई है। मूंग का समर्थन मूल्य 7196 रुपए प्रति क्विंटल है।