फ्रांस का 50 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराने का दावा, अलकायदा के ठिकानों पर की एयर स्ट्राइक

French Airstrikes: एयर स्ट्राइक में 50 से ज्यादा आतंकवादियों को मारने के साथ 4 आतंकियों को ज़िंदा पकड़ने का भी दावा, फ्रांसीसी रक्षा मंत्री ने दी जानकारी

Updated: Nov 03, 2020, 03:57 PM IST

फ्रांस का 50 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराने का दावा, अलकायदा के ठिकानों पर की एयर स्ट्राइक
Photo Courtesy: Amarujala.com

दिल्ली। फ्रांस ने माली में अलकायदा के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक कर 50 आतंकवादियों को मारने का दावा किया है। इस हमले में 4 आतंकवादियों को जिन्दा पकड़े जाने की भी खबर है। बीते दिनों फ्रांस में हुए आतंकी हमलों के खिलाफ यह फ्रांस सरकार की बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। इस सैन्य कार्रवाई की जानकारी मंगलवार को फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली ने मीडिया को दी है।  

फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली ने कहा कि 30 अक्टूबर को फ्रांस की सेना ने माली में आतंकवादियों के ठिकानों पर हवाई हमला किया। जिसमें 50 से ज्यादा आतंवादा मार गिरा गए। इसके साथ ही 4 आतंवादियों को जिन्दा भी पकड़ा गया है। हमले में सेना ने आतंकवादियों के बहुत से हथियारों को नष्ट कर दिया है। जानकारी के मुताबिक इन आतंकी ठिकानों में सेना को बड़े पैमाने पर विस्फोटक और आत्मघाती हमलावरों को पहनाए जाने वाले विस्फोटक से भरे बेल्ट भी मिले हैं।

फ्रांस की सेना ने यह हमला पश्चिमी अफ्रीका के बुर्किना फासो और नाइज़र के बॉर्डर पर किया है। ये वही जगह है जहां फ्रांसीसी सेना इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ लम्बे समय से लड़ाई लड़ रही है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक फ्रांसीसी सेना ने यहां मिराज जेट और ड्रोन का सहारा लेकर आतंकवादियों की 30 से ज्यादा  मोटरसाइकिलों को बर्बाद कर दिया था। फ़्रांस सरकार के अनुसार ये आतंकवादी अलकायदा से जुड़े हुए थे और ग्रुप ऑफ इस्लाम एंड मुस्लिम संगठन के लिए काम कर रहे थे। 

फ्रांस में पिछले दिनों आतंकवादी हिंसा की कई घटनाएं हुई हैं। 16 अक्टूबर को एक टीचर सैमुअल पैटी की हत्या पेरिस के पास एक स्कूल के पास इसलिए कर दी गई, क्योंकि उन्होंने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के बारे में पढ़ाने के दौरान पैगंबर मोहम्मद का कार्टून छात्रों को दिखाया था। इसके कुछ दिन बाद नीस शहर में तीन लोगों की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। इसके कुछ दिन बाद ल्योन शहर में एक चर्च के बाहर गोलीबारी में एक ग्रीक ऑर्थोडॉक्स चर्च के एक पादरी बुरी तरह घायल हो गया। वियना में हुए आतंकी हमले को भी फ्रांस में हुए आतंकी हमलों से जोड़कर देखा जा रहा है। इन तमाम घटनाओं के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैंक्रो ने कहा था कि हमारे दुश्मनों को पता होना चाहिए वे किससे लड़ रहे हैं, हम झुकेंगे नहीं।