मेहुल चोकसी ने किया खुद के साथ मारपीट का दावा, अपहरण में गर्लफ्रेंड का भी बताया हाथ

चोकसी ने एंटीगुआ पुलिस को लिखे अपने शिकायत पत्र में दावा किया है कि उसे भारत भेजे जाने की कोशिश नाकामयाब हो गई है, चोकसी का कहना है कि एंटीगुआ से डोमिनिका उसे अपहरण कर के लाया गया है, जिसमें उसकी कथित गर्लफ्रेंड बारबरा जबरिका का हाथ है

Updated: Jun 08, 2021, 09:55 AM IST

मेहुल चोकसी ने किया खुद के साथ मारपीट का दावा, अपहरण में गर्लफ्रेंड का भी बताया हाथ
Photo Courtesy: FirstPost

नई दिल्ली। भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने एंटीगुआ पुलिस को लिखे अपने शिकायत पत्र में इस बात का दावा किया है कि उसे एंटीगुआ से डोमिनिका जबरन लाया गया है। चोकसी के मुताबिक एंटीगुआ से डोमिनिका लाते समय उसके साथ मारपीट की गई। चोकसी ने कहा है कि इस पूरे घटनाक्रम में उसकी कथित गर्लफ्रेंड बारबरा जबरिका का हाथ है। 

मेहुल चोकसी ने अपने शिकायत पत्र में उसके एंटीगुआ से लापता होने वाले दिन का ज़िक्र करते हुए कहा है कि बारबरा को वो पिछले एक साल से जानता था। बारबरा से उसकी अच्छी दोस्ती थी, दोनों अमूमन शाम को वॉक पर जाया करते थे। चोकसी के मुताबिक 23 मई को वो बारबरा को पिक करने उसके घर गया हुआ था। कुछ समय बातचीत करने के बाद अचानक 8 से 10 लोग अचानक दाखिल हुए और उसके साथ बदसलूकी करने लगे। 

चोकसी ने कहा है कि उन लोगों ने उसके साथ मारपीट की, इस दौरान बारबरा मूकदर्शक बनी रही। उसने चोकसी को बचाने की कोशिश नहीं की। चोकसी ने कहा है कि बारबरा के हाव भाव से ज़रा भी ऐसा प्रतीत नहीं हो रहा था कि वो उसे बचाना चाहती हो। चोकसी ने कहा कि उसके साथ मारपीट करने के बाद उसे बोट पर ले जाया गया। 

चोकसी ने कहा कि बोट पर उसके साथ दो भारतीय और तीन कैरिबियाई मूल के लोग थे। चोकसी ने कहा कि पिछले एक साल से भारतीय व्यक्तियों को मुझे अवैध और बर्बर तरीके से भारत प्रत्यर्पित करने की ज़िम्मेदारी दी गई थी। चोकसी ने कहा है कि बोट पर मौजूद एक भारतीय व्यक्ति ने उसे बताया कि वे लोग पिछले एक साल से उस पर नज़र बनाए रखे हुए थे। उन्हें मेरे घर से लेकर मेरी हर चीज़ की जानकारी है। 

यह भी पढ़ें : मेहुल चोकसी को भारत लाने के लिए डोमिनिका पहुंचा भारतीय विमान

चोकसी ने कहा कि उसे किडनैप करने वाले लोगों ने उसे बताया कि डोमिनिका में एक भारतीय राजनेता उसका इंतज़ार कर रहा है। वो उसका इंटरव्यू लेगा। जिसके बाद जल्द ही उसे भारत ले जाया जाएगा। चोकसी ने कहा कि डोमिनिका पहुंचने के बाद उसे स्थानीय पुलिस ने यह कहते हुए गिरफ्तार कर लिया कि उसके खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया है। 

यह भी पढ़ें : देश में ब्लैक फंगस से 28 हज़ार से ज़्यादा मरीज़ पीड़ित, महाराष्ट्र और गुजरात सबसे ज़्यादा प्रभावित

चोकसी का आरोप है कि जेल में उसे किसी भी तरह की स्वास्थ्य सुविधा नहीं दी गई। यहां तक कि उसे कपड़े भी खुद धोने के लिए कहा गया। मेहुल चोकसी का मामला फिलहाल डोमिनिका कोर्ट में लंबित है। चोकसी के डोमिनिका में पकड़ाए जाने के बाद भारतीय दल भी सारे कागजात के साथ डोमिनिका गया था। लेकिन कोर्ट द्वारा उसके प्रत्यर्पण पर रोक लगाए जाने के बाद भारतीय दल वापिस आ गया।