एक बार फिर शिक्षा मंत्री ने दिया विवादित बयान, कहा गलती हो गई, पालकों पर करवा देनी चाहिए थी FIR

इंदर सिंह परमार ने दो दिन पहले ही फीस कम करवाने की मांग को लेकर गुहार लगाने आए लोगों से कहा था कि मरना है तो मर जाओ

Publish: Jul 01, 2021, 04:41 PM IST

एक बार फिर शिक्षा मंत्री ने दिया विवादित बयान, कहा गलती हो गई, पालकों पर करवा देनी चाहिए थी FIR
Photo Courtesy : Amar Ujala

भोपाल। शिवराज सरकार में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह ने फिर एक बार कुछ ऐसा कह डाला है जिससे कि विवाद बढ़ सकता है। इंदर सिंह परमार ने मंगलवार की घटना को लेकर कहा कि उनसे गलती हो गई, उन्हें पालकों पर एफआईआर करवा देनी चाहिए थी। परमार ने कहा कि स्कूल की फीस को लेकर सरकार ने उचित प्लैटफॉर्म बनाया हुआ है।   

हालांकि शिक्षा मंत्री ने भोपाल के जवाहरलाल नेहरू स्कूल द्वारा 63 फीसदी वृद्धि किए जाने के मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। जांच करने के लिए गठित की गई कमेटी को दो दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपनी है।  

दरअसल मंगलवार को जब शिक्षा मंत्री कैबिनेट की बैठक में शामिल होने जा रहे थे, तब पालक संघ के कुछ प्रतिनिधी स्कूलों द्वारा वसूली जा रही मनमानी फीस पर कार्रवाई करने की मांग कोे लेकर उनके सामने आ गए। पालकों ने मंत्री से कहा कि क्या हम मर जाएं। इस पर मंत्री ने उनकी परेशानी को सुनने के बजाय कहा, हां मर जाओ।  

यह भी पढ़ें : शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का शर्मनाक बयान, फीस कम करने की मांग लेकर आए लोगों से कहा, मरना है तो मर जाओ

मंत्री के इतना कहने पर बवाल मच गया। मंत्री के इस्तीफे की मांग की जाने लगी। कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को तत्काल अपने मंत्री पर कार्रवाई कर मंत्रिमंडल से हटा दिया जाना चाहिए।