Congress Protest: ज्योतिरादित्य सिंधिया को काले झंडे दिखाने गए कांग्रेस नेता गिरफ़्तार

Jyotiraditya Scindia Visit to Indore: कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन से पहले ही पुलिस ने किया चिंटू चौकसे को गिरफ्तार, विधायक संजय शुक्ला ने जताया विरोध

Updated: Aug 17, 2020 11:27 PM IST

Congress Protest: ज्योतिरादित्य सिंधिया को काले झंडे दिखाने गए कांग्रेस नेता गिरफ़्तार

इंदौर। बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया आज मध्य प्रदेश का दौरे पर हैं। जिसे लेकर कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ताओं ने सिंधिया के विरोध में काले झंडे दिखाने की योजना थी। लेकिन बिना अनुमति के धरना दे रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को हटा दिया। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे चिंटू चौकसे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।     

चिंटू चौकसे की गिरफ्तारी के बाद प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ता आगबबूला हो गए। जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को शांत कर दिया। दरअसल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सिंधिया के विरोध में अरविंदो चौराहे पर एक टेंट लगाया था। यहां पर बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद थे। सिंधिया के आने के पहले ही पुलिस ने कार्यकताओं को टेंट सहित वहां से हटा दिया। पुलिस की कार्रवाई के दौरान कार्यकताओं ने जमकर नारेबाजी की। तथा भाजपा सरकार और पुलिस-प्रशासन पर तानाशाही का आरोप लगाया। कार्यकर्ताओं ने कहा कि काले झंडे दिखाने से पहले हमारी गिरफ्तारी दिखा रही है कि सरकार कितनी चिंतित है। पुलिस ने चिंटू चौकसे सहित सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर वैन में बिठा लिया।  

सौ बार गिरफ्तारी देने को तैयार 
कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने चौकसे की गिरफ्तार को लेकर कहा कि सिंधिया प्रदेश के नेता हैं। जब वे कांग्रेस में थे तो हम उनके स्वागत में पहुंचे थे, आज वे भाजपा में हैं तो उनके कार्यकर्ता जा रहे हैं। कांग्रेस में रहते हुए वे मेरे घर, विधायक विशाल पलेट, शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल सहित कई कांग्रेसियों के यहां गए थे। पार्टी अपनी जगह है दुख-खुश में जाना चाहिए यदि आज भी वे हमारे यहां आएंगे तो उनका स्वागत करेंगे। विधायक ने चौकसे की गिरफ्तारी को लेकर कहा कि यह गलत है। हम विपक्ष में हैं और हमारा काम विरोध करना है। सभी कांग्रेस एक साथ हैं। यदि हमारे विरोध करने पर हमें गिरफ्तार किया जाएगा तो एक नहीं हम 100 बार गिरफ्तारी देने को तैयार हैं।