नाबालिग से रेप के आरोपी को बचाने में जुटे मोदी सरकार के मंत्री, अरुण यादव का गंभीर आरोप

मध्य प्रदेश के चंदेरी में 10 साल की मासूम के साथ हैवानियत, परिवार के सदस्यों ने ही किया मानवता को तार-तार, बीजेपी नेता बताया जा रहा है आरोपी, अरुण यादव बोले- रेपिस्ट को बचाने में जुटे केंद्रीय मंत्री

Updated: Sep 06, 2021, 03:33 PM IST

नाबालिग से रेप के आरोपी को बचाने में जुटे मोदी सरकार के मंत्री, अरुण यादव का गंभीर आरोप
Photo Courtesy: Dawn

अशोक नगर। मध्य प्रदेश के चंदेरी में 10 साल की मासूम के साथ हैवानियत के मामले ने नया मोड़ ले लिया है। कांग्रेस के दिग्गज नेता अरुण यादव ने दावा किया है कि मोदी सरकार के मंत्री आरोपी को बचाने में लगे हुए हैं। यादव ने कहा है कि चूंकि आरोपी बीजेपी का बड़ा नेता है इसलिए मध्य प्रदेश सरकार के मंत्री भी उसे बचाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने सीएम शिवराज से आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग भी की है।

अरुण यादव ने ट्वीट किया है कि, 'चंदेरी में नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म के आरोपी जो कि भाजपा के वरिष्ठ नेता है, उसको बचाने के लिए मप्र सरकार के मंत्री एवं केंद्रीय मंत्री सब लगे हुए हैं। स्वयं को बच्चियों के मामा बताने वाले प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह जी से आग्रह है कि दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए।' 

दरअसल, कल ही अशोक नगर की चंदेरी तहसील में एक मासूम बच्ची से साथ दुष्कर्म की खबर सामने आई थी। बताया जा रहा है कि 10 साल की मासूम के साथ इस घिनौने कृत्य को अंजाम देने वाला आरोपी बीजेपी से जुड़ा हुआ है और हाल में केंद्र सरकार में मंत्री बने दिग्गज बीजेपी नेता का खास है। इस मामले में पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत एफआईआर तो दर्ज कर लिया है लेकिन गिरफ्तारी से संबंधित कोई जानकारी सामने नहीं आई है।

यह भी पढ़ें: MBBS के सिलेबस पर विवाद, कमलनाथ बोले, देश के स्वर्णिम इतिहास में हेडगेवार-दीनदयाल का कोई योगदान नहीं

रिपोर्ट्स के मुताबिक मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म की यह घटना एक दो बार नहीं बल्कि पूरे तीन महीने तक हुई। मासूम बच्ची ने जब अपनी मां से पूरा किस्सा बयां किया तो मां के पैरों तले जमीन खिसक गई। अशोकनगर के महिला थाने पहुंची मां बेटी ने पांच आरोपियों के खिलाफ नामजद केस दर्ज करवाया है। हैरानी की बात ये है कि पांचों आरोपी बच्ची के रिश्तेदार ही हैं।