जारी है कोरोना का कहर, शिवराज सरकार के तीन मंत्री कोरोना पॉजिटिव

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम ने बुलाई बैठक, पाबंदियों पर लिया जा सकता है फैसला

Updated: Jan 14, 2022, 09:46 AM IST

जारी है कोरोना का कहर, शिवराज सरकार के तीन मंत्री कोरोना पॉजिटिव

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना से हालात लगातार बिगड़ रहे हैं। गुरुवार को मध्य प्रदेश में 4700 अधिक मामले दर्ज किए गए। प्रदेश में 4755 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई।इंदौर में बीते दिन 1200 से अधिक मामले दर्ज किए गए। जबकि राजधानी भोपाल में भी कोरोना के आंकड़े ने एक दिन में हजार की संख्या को पार कर लिया। शिवराज सरकार के तीन मंत्री एक साथ कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। प्रदेश भर में एक्टिव मरीजों की संख्या 21,394 हो गई है। 

कोरोना संक्रमित पाए गए मंत्रियों में तुलसीराम सिलावट, विश्वास सारंग और कमल पटेल शामिल हैं। कृषि मंत्री कमल पटेल के कोरोना से संक्रमित पाए जाने के बाद उनकी लापरवाही को लेकर सवाल उठ रहे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना संदिग्ध होने के बावजूद कमल पटेल ने कई कार्यक्रमों में शिरकत की। बच्चों की प्रतियोगिता में भी वे पहुंच गए। इसके साथ ही वे तुलसीराम सिलावट, कैलाश विजयवर्गीय, वीडी शर्मा सहित कई भाजपा नेताओं से भी मिले। 

कोरोना से हालात बिगड़ता देख सीएम शिवराज ने आज बैठक बुलाई है। जिसमें पाबंदियों को लेकर एलान हो सकता है। सीएम शिवराज क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक करने वाले हैं।

गुरुवार को इंदौर में कोरोना के कुल 1291 मामले सामने आए। जबकि राजधानी भोपाल में 1008 मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। भोपाल में दस डॉक्टरों की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। राजधानी में संक्रमित पाए गए मरीजों में 73 बच्चे हैं। इनमें दो बच्चों की उम्र एक साल है।

इसके आलावा ग्वालियर और जबलपुर में भी कोरोना तेजी से फैल रहा है। जबलपुर में कोरोना के 349 मरीज मिले। वहीं ग्वालियर में कोरोना के 635 मामले सामने आए। जबकि सागर में 263 और रीवा में 61 नए मामले सामने आए हैं। 

देश भर में भी कोरोना संक्रमण में लगातार वृद्धि हो रही है। शुक्रवार को देश भर में कोरोना के 2 लाख 62 हजार 202 मामले सामने आए। जबकि 315 मरीजों की मौत हो गई। पिछले दिन के मुकाबले शुक्रवार को देश भर में कोरोना के मामलों में 6.7 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। गुरुवार को देश भर में 2 लाख 47 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं।