रतलाम में मारा गया कुख्यात साइकोकिलर, दिलीप देवल पर था 6 हत्याओं का आरोप

MP Crime: देर रात तक चले एनकाउंटर में मारा गया दिलीप देवल लूट के बाद पूरे परिवार की हत्या कर देता था, मुठभेड़ में 5 पुलिसकर्मी भी हुए घायल

Updated: Dec 04, 2020, 02:47 PM IST

रतलाम में मारा गया कुख्यात साइकोकिलर, दिलीप देवल पर था 6 हत्याओं का आरोप
Photo Courtesy: Bhaskar

रतलाम। मध्य प्रदेश के रतलाम में पुलिस ने एक कुख्यात साइको किलर को मार गिराया है। गुरुवार देर रात तक चले इस मुठभेड़ में दो सब इंस्पेक्टर सहित पांच पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। रतलाम पुलिस ने बताया है कि बीते 25 नवंबर की रात ट्रिपल मर्डर करने वाले कुख्यात साइको किलर दिलीप देवल को एनकाउंटर के दौरान मारा गया है।

बताया जा रहा है कि दिलीप देवल रतलाम में ट्रिपल मर्डर की घटना को अंजाम देने के बाद से फरार था। इस हत्याकांड के 5 आरोपियों को पुलिस पहले ही पकड़ चुकी थी, लेकिन मास्टरमाइंड दिलीप देवल का कोई सुराग नहीं मिल पा रहा था। गुरुवार को पुलिस को एक मुखबिर ने सूचना दी कि दिलीप को खाचरोद रोड की तरफ देखा गया है।

सूचना के आधार पर जिला पुलिस तत्काल हरकत में आई और इलाके में दिलीप की तलाश शुरू कर दी। पुलिस के मुताबिक दिलीप उन्हें देखकर भागने लगा। पुलिस अधिकारियों ने जब उसे रुकने को कहा तो वह पलटकर पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस जबतक सम्भल पाती तब तक उसने कई पुलिसवालों को गोली मारकर घायल भी कर दिया। पुलिस की जवाबी फायरिंग में दिलीप को गोली लगी और उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। दो सब इंस्पेक्टर अयूब खान और अनुराग यादव समेत तीन अन्य पुलिसकर्मी घायल हुए हैं जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्‍पताल भेजा गया है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस मुठभेड़ के बाद पुलिस कार्रवाई की तारीफ की है। सीएम शिवराज ने गुरुवार देर रात ट्वीट किया, 'अभी थोड़ी देर पहले रतलाम ट्रिपल मर्डर केस का मुख्य आरोपी दिलीप देवल पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया। मैंने पुलिस को सख़्त निर्देश दिए थे कि ऐसे नरपिशाच को समाज में रहने का कोई अधिकार नहीं है। उसे जल्द से जल्द पकड़ा जाए।'

सीएम ने आगे लिखा कि, 'जब पुलिस टीम उसे पकड़ने गयी तो उसने टीम पर गोलियाँ चलाई और हमारे बहादुर जवानों ने उसका मुंहतोड़ जवाब दिया। हमारे कुछ पुलिसकर्मी इस मुठभेड़ में घायल भी हुए हैं। मैं उनके शीघ्रातिशीघ्र ठीक होने की कामना करता हूँ। पूरी पुलिस टीम को मध्य प्रदेश की तरफ़ से धन्यवाद। मध्य प्रदेश आज फिर से शांति से सोएगा क्योंकि आप हमारे रक्षक हो। जय हिंद!'

 

 

लूट के बाद पूरे परिवार की कर देता था हत्या

बता दें कि यह साइको किलर दिलीप देवल पहले तो लूट की घटना को अंजाम देता था और इसके बाद पूरे परिवार की नृशंस हत्या कर देता था। आरोपी ने बीते 25 नवंबर की रात राजीव नगर में तीन मंजिला मकान में रहने वाले गोविंद सोलंकी, उनकी पत्नी शारदाबाई और बेटी दिव्या की गोली मारकर हत्या कर दी थी। सोलंकी परिवार की जिस तरीके से गोली मारकर हत्या की गई थी, कुछ इसी अंदाज में कस्तूरबा नगर में 18 जून 2020 को प्रेमकुंवर सिसोदिया नामक महिला की भी हत्या की गई थी। 

दिलीप मूल रूप से गुजरात के दाहोद जिले का रहने वाला था। अब तक वो कम से कम 6 लोगों की हत्या कर चुका था। उसने गुजरात से अनुपम शर्मा और हिमांशु सोलंकी के नाम से फर्जी आधार कार्ड भी बनवा रखे थे। उसे दाहोद के एक व्यापारी की हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा हुई थी। 2019 में जेल से पेरोल पर बाहर आने के बाद रतलाम आकर किराये के मकान में रहने लगा था। उसके खिलाफ 2017 में दाहोद में हत्या के दो अलग-अलग मामले और रतलाम में दुष्कर्म का एक मामला भी दर्ज था।