MP: 875 जिला पंचायत सदस्यों का परिणाम घोषित, 386 सीटों पर कांग्रेस का दावा, सीएम के गृहजिले में हारी बीजेपी

पंचायत चुनाव के नतीजों से कांग्रेस में उत्साह, दिग्विजय सिंह ने कहा- 386 सीटों पर कांग्रेस, 360 सीटों पर बीजेपी और 129 सीटों पर अन्य प्रत्याशियों की जीत हुई है, बीजेपी बोली- हम जीत रहे हैं, ये झूठ बोल रहे

Updated: Jul 16, 2022, 12:47 PM IST

MP: 875 जिला पंचायत सदस्यों का परिणाम घोषित, 386 सीटों पर कांग्रेस का दावा, सीएम के गृहजिले में हारी बीजेपी

भोपाल। मध्य प्रदेश में जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव के सभी 875 सीटों के परिणाम घोषित हो गए हैं। ये चुनाव गैर-दलीय आधार पर हुए थे, लेकिन कांग्रेस और बीजेपी दोनों दलों ने दावा किया है कि अधिकांश विजेता उनके पार्टी के लोग हैं। कांग्रेस ने 386 सीटों पर जीत का दावा किया है। दिलचस्प बात ये है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर में भी भाजपा की हार हुई है।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बताया कि 875 में से 386 सीटों पर कांग्रेस ने कब्जा जमाया है। जबकि बीजेपी 360 सीटों पर ही सिमटकर रह गई। वहीं शेष 129 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों की जीत हुई है। कांग्रेस नेताओं में यह भी कहा है कि निर्दलीय प्रत्याशियों में से अधिकांश कांग्रेस विचारधारा के लोग हैं। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि अगर भाजपा ने प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग नहीं किया होता तो कांग्रेस समर्थित उम्मीदवार कम से कम 450 सीटें जीत सकते थे

चुनाव नतीजे आने के बाद पीसीसी चीफ कमलनाथ ने प्रदेशवासियों को धन्यवाद ज्ञापित किया है। कमलनाथ ने ट्वीट किया, 'धन्यवाद मध्यप्रदेश... मैं गांव–गांव के मेरे भाइयों और बहनों का मन से आभारी हूं ! आपके बड़े दिल ने कांग्रेस का खुलकर समर्थन किया और हमारे 
जन सेवकों को आशीर्वाद दिया, आप अद्भुत हैं। हम 2023 में फिर एक साथ मध्यप्रदेश की नई पहचान और जन–जन के उत्थान की लड़ाई मिलकर लड़ेंगे।'

हालांकि, दावों में बीजेपी भी पीछे नहीं है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि कांग्रेस झूठ फैला रही है। चुनाव नतीजे बीजेपी के पक्ष में आए हैं और 75 फीसदी से अधिक सीटों पर बीजेपी कार्यकर्ताओं की जीत हुई है। भाजपा का दावा है कि अब तक मिले परिणामों के हिसाब से 37 जिलों में पार्टी समर्थित जिला पंचायत अध्यक्ष बनना तय है। जबकि कांग्रेस का दावा है कि 31 जिलों में उनके जिला पंचायत सदस्य जीते हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 38 जिलों में भाजपा समर्थित जिपं सदस्य जीते हैं। सवा दो सौ जनपदों में भी भाजपा के लोग आगे हैं। इसपर कमलनाथ ने कहा कि वक्त बता देगा कि किसके-कितने पंचायत अध्यक्ष बन रहे हैं। जिपं सदस्य हमारे सभी जिलों में जीते हैं।